मुंबई। 28 मार्च को अभिनेता अक्षय खन्ना अपना बर्थडे मना रहे हैं। इस साल अक्षय 44 साल के हो गये हैं। हाल ही में ‘द एक्सिडेंटल प्राइम-मिनिस्टर’ में नज़र आये अक्षय अपनी अलग तरह की एक्टिंग स्टाइल के लिए जाने जाते हैं।

आंखों से अभिनय की गहराइयां छूते अक्षय खन्ना फ़िल्मी दुनिया में लंबे अनुभव के बाद भी स्वयं को प्रशिक्षु मानते हैं। वे कहते हैं, मेरी नज़र में अभिनय एक कला है। मुझे नहीं लगता कि कोई कलाकार इस कला में पूरी तरह महारत हासिल कर सकता है। अभिनय में हर क्षण कुछ नया सीखने की गुंजाइश रहती है। मैं भी अभी सीख रहा हूं। अभिनय में एकाग्रता सीखने की मुझे बहुत जरूरत है। साथ ही, एक परफार्मर के रूप में मैं रिलैक्स रहने की भी कला सीखना चाहता हूं। अपनी शर्तो पर फ़िल्मी दुनिया की राह चल रहे अक्षय खन्ना स्टार अभिनेता भले ही न हों, पर उन्होंने स्वयं को अभिनय-प्रतिभा के धनी कलाकार के रूप में जरूर साबित किया है।

यह भी पढ़ें: अब इस विदेशी पत्रिका में खोलेंगी प्रियंका चोपड़ा अपने राज़, कवर पेज पर भी दिखेंगी, देखें तस्वीरें

अक्षय के फ़िल्मी सफर की शुरूआत प्रभावी नहीं हो पायी थी। लेकिन, शुरुआती दिनों में ‘हिमालय पुत्र’, ‘कुदरत’, ‘मोहब्बत’, ‘लव यू हमेशा’ में दर्शकों की अस्वीकार्यता से अक्षय निराश नहीं हुए। उन्हें अपनी प्रतिभा पर यकीन था। वे बस एक अच्छे मौके की तलाश में थे। जे पी दत्ता निर्देशित ‘बॉर्डर’ में उन्हें यह मौका मिल गया। ‘बॉर्डर’ में संजय दत्त, सनी देओल सरीखे सितारों की मौजूदगी में भी अक्षय का अभिनय सर्वाधिक प्रभावी रहा। अब, अक्षय में बेहतरीन कलाकार की छवि देखी जाने लगी। पिता विनोद खन्ना के पुत्र की पहचान से वे बाहर निकल चुके थे। नीचे की तस्वीर में आप विनोद खन्ना के साथ उनके दोनों बेटों राहुल खन्ना और अक्षय खन्ना (लेफ्ट) के बचपन की एक तस्वीर देख सकते हैं! 

धीरे-धीरे अक्षय ने साबित कर दिया कि वे हर रस की भूमिका निभाने में सक्षम हैं। उन्होंने ‘हलचल’ और ‘हंगामा’ में हास्य रस की भूमिका निभायी, तो ‘हमराज’ और ‘रेस’ में खलनायक की भूमिका। ‘ताल’ में समर्पित प्रेमी की भूमिका में भी वे खूब जंचे। ‘गांधी माई फादर’ अक्षय के करियर की सबसे उल्लेखनीय फ़िल्म मानी जाती है। इस फ़िल्म में हरिलाल गांधी की भूमिका में अक्षय का संवेदनशील अभिनय बेहद पसंद किया गया। हर फ़िल्म में अक्षय अभिनय के नए अंदाज़ से दर्शकों को प्रभावित करते हैं। तभी तो, उनके प्रशंसकों की सूची में सुभाष घई और प्रियदर्शन जैसे दिग्गज निर्देशकों से लेकर अनिल कपूर, प्रियंका चोपड़ा, करीना कपूर ख़ान जैसे स्टार कलाकारों के नाम शामिल हैं। अक्षय ने ऐश्वर्या, करीना, माधुरी, श्रीदेवी समेत सभी टॉप की अभिनेत्रियों के साथ काम किया है! 

यह भी पढ़ें: कोलकाता से ‘धड़क’ की शूटिंग कर मुंबई लौटीं जाह्नवी कपूर, देखें लेटेस्ट तस्वीरें 

पिता विनोद खन्ना को अक्षय अपनी प्रेरणा और उनसे विरासत में मिली अभिनय प्रतिभा को सबसे बड़ी पूंजी मानते हैं। उम्र के 45वें पड़ाव पर पहुंच चुके अक्षय आज भी कुंवारे हैं। वो किसी स्थायी प्रेम-संबंध में नहीं बंध सके हैं। हालांकि कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार एक ज़माने में रणधीर कपूर, अपनी बड़ी बेटी करिश्मा कपूर की शादी अक्षय से करवाना चाहते थे। उन्होंने इस बारे में विनोद खन्ना से बात भी की थी, मगर लोलो की मॉम बबीता इसके लिए तैयार नहीं हुई थीं। करिश्मा का करियर उस वक़्त उछाल पर था और बबीता बेटी के लिए रिस्क नहीं लेना चाहती थीं।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Hirendra J