कोलकाता, राज्य ब्यूरो। रेल मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता पीयूष गोयल ने आज एक बार फिर से कहा कि भारतीय रेलवे राष्ट्र की संपत्ति है, लोगों की संपत्ति है और इसे कोई नहीं छू सकता। उन्होंने दोहराया कि रेलवे का कभी निजीकरण नहीं किया जाएगा। उन्होंने लोगों से कहा कि विपक्ष के प्रचार में मत फंसिए। यह आपकी संपत्ति है और आपकी बनी रहेगी। रेल मंत्री ने मंगलवार को बंगाल के खड़गपुर में ये बातें कहीं।

कोरोना काल में रेलवे ने रच दिया इतिहास

पीयूष गोयल ने कहा कि हमारे ट्रैकमैन, रखरखाव और सिग्नलिंग लोगों के प्रयासों के कारण ही पिछले दो वर्षों में एक भी मौत नहीं हुई है। उन्होंने आगे कहा कि हमारे रेलवे के कर्मचारियों ने दिन रात एक करके लॉकडाउन के बीच में भी जनता की सेवा की। उन्होंने देशभर में किसानों के लिए खाद पहुंचाया, गरीबों के लिए अनाज पहुंचाया, बिजली घरों को कोयला पहुंचाया, सबके लिए दवाइयां पहुंचाई। आप सब इस बात पर गर्व कर सकते हैं कि कोविड के बावजूद 2020-21 में हम इतिहास रचेंगे। रेलवे के 168 साल के अपने इतिहास में माल गाड़ी ने सबसे ज्यादा माल अगर ढोया है, तो इस कोविड के साल में ढोया है।

नंदीग्राम में ममता पर बरसे अमित शाह

नंदीग्राम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोला। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस बार पूरा बंगाल परिवर्तन के मूड में है। इसका सबसे आसान रास्ता है कि नंदीग्राम में ममता दीदी को हरा दो, पूरे बंगाल में परिवर्तन अपने आप हो जाएगा। बता दें कि नंदीग्राम में भाजपा उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी और मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के बीच आमने-सामने की टक्टर है। रोड शो के बाद शाह ने एक जनसभा को भी संबोधित किया। उन्होंने कि जहां ममता दीदी निवास करती हैं उसके पांच किमी दायरे के अंदर ही एक दुष्कर्म की घटना घटी। महिला सुरक्षा की बात करने वाली ममता दीदी से मैं पूछना चाहता हूं कि जब आप नंदीग्राम में हो उस समय ऐसी घटना होती है तो बंगाल की सुरक्षा का क्या होगा? उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले भाजपा कार्यकर्ता की वृद्ध मां को पीट-पीटकर मारा जाता है, कल उस मां की भी मृत्यु हो गई है, लेकिन ममता दीदी महिला सुरक्षा की बात करती हैं। पश्चिम बंगाल के लोग इस विरोधाभास से अच्छी तरह वाकिफ हैं।

Edited By: Neel Rajput