दक्षिण 24 परगना, एजेंसियां। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के सोनारपुर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी के वाराणसी से चुनाव लड़ने की वजह बताते हुए उन पर करारा हमला बोला। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस अब कह रही है कि दीदी अब वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। इससे दो बातें साफ होती हैं। एक तो दीदी ने बंगाल में अपनी हार स्वीकार कर ली है। दूसरी यह कि दीदी अब बंगाल के बाहर अपने लिए जगह तलाश करने में जुट गई हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दीदी यह जरूर है कि वाराणसी में आपको तिलक वाले लोग बहुत मिलेंगे, चोटी वाले लोग बहुत मिलेंगे। यहां आप जय श्री राम के आह्वान से चिढ़ती हैं। वहां आपको हर-हर महादेव भी सुनने को मिलेगा। फिर आप क्या करेंगी? मेरी आपसे एक ही प्रार्थना है, बनारस के लोगों पर और यूपी के लोगों पर गुस्सा मत करिएगा दीदी। उत्‍तर प्रदेश और बनारस के लोगों ने मुझे इतना प्यार दिया है, वो आपको भी बहुत स्नेह देंगे दीदी। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इन दिनों TMC में मंथन चल रहा है। TMC में कुछ समझदार लोग कह रहे हैं कि दीदी (ममता बनर्जी) ने ताव में आकर नंदीग्राम में जाने का फैसला कर तो लिया है लेकिन यह उनकी बहुत बड़ी गलती साबित हुई है। नंदीग्राम में दीदी (ममता बनर्जी) की हार होते देख TMC के लोगों ने तय किया कि दीदी को दूसरी सीट से भी लड़ाया जाए। फिर समझदार लोगों ने दीदी से कहा कि यह उनकी दूसरी गलती होगी। कुछ लोगों ने यह भी कहा कि दीदी दो सीटों पर हारोगी तो TMC का भविष्य में चलना मुश्किल हो जाएगा। 

पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार, महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराधों की जल्द सुनवाई के लिए देश भर में एक हजार से ज्यादा फास्ट ट्रैक कोर्ट बनवा रही है लेकिन यहां दीदी की सरकार ने इसकी स्वीकृति ही नहीं दी है। बीते सालों में जो निराशा यहां फैलाई गई है उसी को आशा में बदलना ही तो आशोल पॉरिबोर्तोन है। कट मनी, बिचौलिए, करप्शन, इनको रोकने का एक बहुत सक्षम माध्यम है - डिजिटल इंडिया। इससे तृणमूल कांग्रेस को बहुत ही तकलीफ है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दीदी की सरकार का रिपोर्ट कार्ड, यहां की सड़कों पर नजर आता है। राजधानी से सटा हुआ इलाका होने के बावजूद जाम और वॉटर लॉगिंग की समस्या यहां आम है। सड़कें पानी से भर जाती हैं लेकिन घर में साफ पीने का पानी नहीं मिलता क्योंकि टैंकर माफिया की यही मर्जी है। आज गरीब से गरीब को इलाज पर कम से कम खर्च करना पड़े, इसके लिए हर संभव कोशिश केंद्र सरकार कर रही है लेकिन पश्चिम बंगाल में इलाज में भी कटमनी चलता है। यही वजह है कि दीदी की सरकार आयुष्मान भारत योजना से जुड़ने के बाद वापस हट गई।

प्रधानमंत्री ने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि ममता दीदी, आप भले ही खुद को कूल मानती हैं लेकिन आपके हाव-भाव से पश्चिम बंगाल का मूड पता चल रहा है। 'छप्पा भोट' का मौका नहीं मिल रहा तो आप चुनाव आयोग को गाली दे रही हैं। सुरक्षा बलों पर सवाल उठा रही हैं। दीदी, आप बंगाल की जनता पर यकीन करिए। वह अपना फैसला दे चुकी है। यह तय हो गया है कि आपको अब टाका-मार-कम्पनी यानि टीएमसी सहित ‘नबन्ना’ छोड़कर जाना पड़ेगा। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के कला प्रेमियों और हर क्रिएटिव साथी को आश्वस्त करूंगा कि पश्चिम बंगाल की भाजपा सरकार बांग्ला साहित्य, बांग्ला सिनेमा और यहां की धरोहरों के लिए सकारात्मक माहौल बनाएगी, इसके लिए तेजी से काम करेगी। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने हुगली के आरामबाग में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि ममता बनर्जी की बौखलाहट का सबसे बड़ा कारण है उनका 10 साल का रिपोर्ट कार्ड। उन्‍होंने जो काम किया है उनमें उद्योग बंद हुए हैं। यह भी पढ़ें- Video : पीएम मोदी ने बताया ममता बनर्जी की बौखलाहट का कारण