कोलकाता, राज्य ब्यूरो। गत तीन अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और टोपी पहने एक मुस्लिम युवक की तस्वीर मीडिया में सुर्खियों में थी। सोनारपुर की एक फोटो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गई। इस तस्वीर में एक मुस्लिम युवक मोदी के कान में कुछ कहता दिख रहा है और मोदी उस युवक के कंधे पर हाथ रखे बड़े गौर से बातें सुन रहे हैं। जब उक्त तस्वीर सामने आई तो लोग ट्विटर पर अलग-अलग तरह की बातें करने लगे, लेकिन असल में उक्त युवक का नाम जुल्फिकार अली है और वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बड़ा ही जबर्दस्त फैन है। वह भाजपा का सक्रिय कार्यकर्ता भी है। दक्षिण 24 परगना जिले के सोनारपुर में चुनावी सभा के दौरान पीएम मोदी के कानों में जुल्फिकार नमाजी टोपी पहने कुछ कह रहे थे और पीएम भी अपना हाथ उनके कंधे पर रखकर बड़े ही ध्यान से बातें सुन रहे थे। मोदी और मुस्लिम युवक के फोटो पर ट्विटर यूजर्स ने रोचक कमेंट किए हैं।

पीएम को बताया, राष्‍ट्रहित में काम करना चाहते हैं 

जुल्फिकार का कहना है कि उनकी बहुत लंबे समय से पीएम मोदी को करीब से देखने व प्रणाम करने की तमन्ना थी। सात मार्च को ब्रिगेड परेड मैदान में भी वह थे, परंतु उनकी इच्छा पूरी नहीं हो सकी। उन्होंने पीएम को बताया कि वह राष्ट्रहित में काम करना चाहते हैं। 

ना बांग्लादेश बनने देंगे और ना पाकिस्तान 

जुल्फिकार कहना है कि राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम पोर्ट विधानसभा को मिनी पाकिस्तान समझते हैं। हम जैसे भारतीय जब तक हैं तब तक इसे ना बांग्लादेश, ना पाकिस्तान बनने देंगे। जो लोग राष्ट्रहित के बारे में सोचते हैं, परिवार के बारे में सोचते हैं, देश के बारे में सोचते हैं, वे इसे पाकिस्तान और बांग्लादेश नहीं बनने देंगे। सभी मुस्लिम अगर एकसाथ प्रेम से रहते हैं, किसी पर जुल्म नहीं करते हैं तो वे एक सवाल का जवाब दें। सारे मुसलमान क्या हर वक्त टोपी पहनकर रह सकते हैं। मैं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से पूछना चाहता हूं कि क्या वह किसी मुसलमान को सीएम बनाएंगी। वह हमें मूर्ख समझती हैं। हमें सिर्फ लॉलीपॉप थमा दी जाती है।

 

Edited By: Arun Kumar Singh