चेन्नई, आइएएनएस। तमिलनाडु में चुनाव पर्यवेक्षक के रूप में तैनात केरल कैडर के दो आइएएस अधिकारियों श्रीराम वेंकिटरमण और आसिफ के. यूसुफ को चुनाव आयोग ने वापस केरल भेज दिया है। दोनों अधिकारियों की पृष्ठभूमि दागदार होने के कारण यह कदम उठाया गया है। केरल के एक समाचारपत्र समूह सिराज ने केरल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को दोनों अधिकारियों को वापस बुलाने के लिए आवेदन सौंपा था।

श्रीराम के खिलाफ सिराज समाचारपत्र के तिरुअनंतपुरम ब्यूरो प्रमुख केएम बशीर की तीन अगस्त 2019 को हुई मौत को लेकर एफआइआर दर्ज है। आरोप है कि शराब के नशे में गाड़ी चला रहे श्रीराम ने बशीर को टक्कर मार दी और उसमें बशीर की मौत हो गई थी।

आसिफ के. यूसुफ सिविल सेवा में ओबीसी आरक्षण का दावा करने के लिए फर्जी आयकर ब्योरा भरकर गैर क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट पेश करने के आरोपों का सामना कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि चुनाव आयोग के दिशानिर्देश में दागी पृष्ठभूमि वाले अधिकारियों को पर्यवेक्षक के रूप में भेजे जाने पर रोक लगाई गई है।