जयपुर, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को राजस्थान में चुनावी सभाओं में विपक्षी दल पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आतंकियों को बिरयानी खिलाती है और हम गोली। योगी ने कहा कि किस हैसियत से कांग्रेस नेता कह रहे हैं कि 2019 से पहले राम मंदिर पर कोर्ट में सुनवाई नहीं होनी चाहिए। योगी ने कांग्रेसी नेताओं के बजरंगियों से डरने की बात भी कही।

राजस्थान के चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को जयपुर, कोटा, बारां में सभाओं को संबोधित किया। जयपुर की सभा में उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता मंच पर बड़ी-बड़ी घोषणाएं कर रहे हैं। वह घोषणाओं से जनता को गुमराह करके भ्रम में डालना चाहते हैं, क्योंकि कांग्रेस जानती है कि वह सत्ता में नहीं आ रही है, इसलिए जो चाहे बोल दो। योगी ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं से पूछना चाहिए कि जब इतने साल आपका राज रहा तो पांच राज्य बीमारू कैसे रहे। इन राज्यों में विकास क्यों नहीं हो पाया। उन्होंने दावा किया कि जबसे भाजपा की सरकार केंद्र और प्रदेश में आई है, विकास कई गुना बढ़ा है।

गांधीजी का सपना साकार करना है
उन्होंने कहा कि कांग्रेस 17 चुनाव हार चुकी है। अब गांधीजी का सपना साकार करने का समय आ गया है। गांधीजी ने कहा था कि आजादी के तत्काल बाद कांग्रेस का विसर्जन कर दो और मुझे लगता है गांधीजी के सपने को अगर राहुल गांधी साकार कर लेंगे तो बड़ा पुण्य उन्हें मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि मतदाताओं के पास भी एक स्वर्णिम अवसर है। 2019 में लोकसभा फाइनल होगा, सेमी फाइनल में ही कांग्रेस को जवाब दे दीजिए।

कांग्रेस को सिर्फ मुसलमानों के वोट चाहिए
कोटा की सभा में योगी ने कहा कि कांग्रेस नेता बजरंगियों से डरने लगे हैं। उन्हें इस बात का एतराज है कि बजरंगी देश के आदिवासियों, वंचितों और समाज के तारणहार हैं। कांग्रेस नेताओं को एससी, एसटी के वोट से मतलब नहीं है, उन्हें तो मुसलमानों के वोट चाहिए। कांग्रेस कहती है कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है तो फिर वंचित वर्ग कहां जाएगा। किसी वर्ग विशेष के लिए ऐसे कहना, आदिवासी और वंचित के हित में नहीं है। कांग्रेस ने सत्ता की लालसा में देश का विभाजन तक कर दिया। कांग्रेस ने समाज को बांटा है।

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप