जोधपुर। राजस्थान के पाली जिले के आदर्श नगर क्षेत्र के निजी आवास के पास एक वाहन में ईवीएम मिलने का मामला सामने आया है। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारियों समेत निर्वाचन विभाग से जुड़े अधिकारी वहां पहुंचे और मशीनों को फिर से बांगड़ कॉलेज में ले जाया गया और जांच की गई। इससे चुनाव में लगे अफसरों- कर्मचारियों में हलचल मच गई।

कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा से मिली जानकारी के अनुसार मिली मशीन सेक्टर ऑफिसर पाली विधानसभा (118) को आवंटित की जा चुकी थी और रिजर्व श्रेणी की मशीन थी। इसे मतदान के समय आने वाली तकनीकी खराबी के समय बदलने के लिए सेक्टर ऑफिसर के पास रिजर्व रखा गया था।

घटनास्थल के सामने ही भाजपा के विधायक और विधानसभा के सचेतक मदन राठौड़ का घर भी है, उनका टिकट बीजेपी ने इस बार काट दिया था। हालांकि अधिकारियों ने मशीनों की जांच के बाद उनको सुरक्षित पाया। पाली एडीएम भगीरथ विश्नोई के अनुसार सेक्टर आफिसर अपने क्षेत्र के लिए निकल चुके थे और रास्ते में ही थे।

एक वाहन में उनकी ईवीएम होने की सूचना मिली। कलेक्टर के मुताबिक मशीन सुरक्षित है और संबंधित अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है।

Posted By: Arvind Dubey