जागरण संवाददाता, जयपुर। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 में प्रवासी राजस्थानी मतदाताओं को कांग्रेस के पक्ष में लामबंद करने के लिए पार्टी ने राजस्थान के 28 नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी है। 21 अक्टूबर को महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजस्थान के कांग्रेसी नेता गुरुवार को उन विधानसभा क्षेत्रों के लिए रवाना हो गए, जहां की उन्हें जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रदेश प्रभारी कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे को पार्टी ने मुंबई क्षेत्र का प्रभारी बनाया है।

जानकारी के अनुसार, राज्य के उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी को गोरेगांव, विधायकों में मनोज दहिसर और सुरेश मोदी को भांडुप पश्चिम, विधायक जगदीश जांगीड़ को चर्कोप, विधायक अमित चाचाण को मलाड़, पूर्व मंत्री महेंद्र जीत मालवीय को अंधेरी पश्चिम, विधायक वेदप्रकाश सोलेंकी को अंधेरी पूर्व, पूर्व मंत्री रामलाल जाट को घाटकोपर, विधायक गोपाल मीणा को वेंद्रे ईस्ट, पूर्व मंत्री मुरारी लाल मीणा को सियो कोलीवाड़ सीट का जिम्मा सौंपा गया है।

इसी तरह पूर्व सांसद भरतराम मेघवाल को बोरीवली, रफीक मंडेलिया को मुलुंड, पूर्व संसदीय सचिव रतन देवासी को जोगेश्वरी पूर्व, रामपाल शर्मा को कांदिवली पूर्व, खानुखान बुधवाल को वर्सोवा, नीरज डांगी को विले पार्ले, पंकज मेहता को चांदिवली, केके हरितवाल को घाटकोपर, कान सिंह राठौड़ को चैंबूर, भगवान सहाय सैनी को वेंद्रे वेस्ट, मनीष यादव को धारावी, अरूण कुमावत को वडाला, केवलचंद गुलेच्छा को माहिम, विचार व्यास को शिवड़ी, रूपेश कांत व्यास को बाइकुल्ला, विजय गर्ग को मालाबार हिल और पंकज शर्मा को मुंबादेवी विधानसभा क्षेत्रों में प्रवासी राजस्थानियों को कांग्रेस उम्मीदवारों के पक्ष में रिझाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी अगले सप्ताह महाराष्ट्र का दौरा करेंगे।

राजस्थान की दो सीटों पर उपचुनाव के लिए नेताओं को तैनात किया

राजस्थान की दो विधानसभा सीटों खींवसर और मंडावा में 21 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव के लिए पार्टी ने राज्य सरकार के मंत्रियों, विधायकों एवं पार्टी नेताओं को जिम्मा सौंपा है। मंडावा सीट के लिए राज्य के सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री भंवरलाल मेघवाल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष मकबूल मंडेलिया, वरिष्ठ नेता घनश्याम तिवाड़ी, पूर्व सांसद भरत मेघवाल, विधायक जगदीश जांगिड़, खानू खान बुधवाली, डॉ.अजीत सिंह शेखावत, मंगलाराम गोदारा, बालकृष्ण खींची, केके खरितवाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इसी तरह खींवसर सीट के लिए उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी, महिला व बाल विकास मंत्री ममता भूपेश,पूर्व सांसद मानवेंद्र सिंह, विधायक मदन प्रजापत, मंजू मेघवाल, पूर्व मंत्री सुरेंद्र गोयल, सोना देवी बावरी, विजय पूनिया, भंवरलाल, मनीषा पंवार और रूपाराम मेघवाल को तैनात किया गया है। ये सभी नेता मतदान संपन्न होने तक दोनों विधानसभा क्षेत्रों में रहकर कांग्रेस के चुनाव अभियान की कमान संभालेंगे। पार्टी ने दोनों सीटों पर उपचुनाव के लिए 40 स्टार प्रचारकों की सूची पहले ही जारी कर दी है।

उल्लेखनीय है कि खींवसर सीट पर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल के नागौर से सांसद बनने और मंडावा सीट पर भाजपा के नरेंद्र खीचड़ के झुंझुनू से सांसद बनने के कारण उपचुनाव हो रहा है। खींवसर सीट भाजपा ने बेनीवाल के लिए समझौते में छोड़ी है। बेनीवाल लोकसभा चुनाव के दौरान एनडीए में शामिल हुए थे।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप