भोपाल। होमगार्ड मुख्यालय की कैंटीन के काउंटर पर मिले डाक मतपत्र के मामले में एक एएसआई, दो नगर सैनिकों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा पुलिस महानिदेशक, जिला निर्वाचन अधिकारी से जांच कराए जाने के बाद होमगार्ड व पोस्ट ऑफिस के अधिकारी-कर्मचारी की प्रथम दृष्टया त्रुटि पाई गई।

वहीं, एक डाक मतपत्र प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने पत्रकारवार्ता में प्रस्तुत किया और आरोप लगाया कि इसे मतदान के बाद 29 नवंबर को पोस्ट किया गया। उन्होंने कहा कि डाक मतपत्रों को देरी से पोस्ट किए जाने का षड्यंत्र किया गया है, ताकि संबंधित कर्मचारी मताधिकार का उपयोग नहीं कर पाएं।

जानकारी के मुताबिक होमगार्ड सैनिकों के डाक मतपत्र पोस्टमैन द्वारा व्यक्तिगत रूप से देने के बजाय मुख्यालय में ऑफिस में दे दिए गए। इस बीच होमगार्ड के करीब 6000 कर्मचारी तेलंगाना और राजस्थान की चुनाव ड्यूटी में रवाना हो गए।

डाक मतपत्र ऑफिस में एएसआई पूर्णिमा श्रीवास्तव के पास थे। उन्होंने कैंटीन में लोगों के नियमित रूप से आने-जाने की गतिविधियों को ध्यान में रखकर बचे हुए मतपत्र वहां रखवा दिए थे। मंगलवार को इन डाक मतपत्रों के कैंटीन के काउंटर पर पड़े होने की खबरों से हुए बवाल के बाद होमगार्ड मुख्यालय में हड़कंप मच गया।

सूत्र बताते हैं कि होमगार्ड के डिवीजन कमांडेंट ने मामले की जांच कर महानिदेशक को रिपोर्ट भेज दी है। इसमें एएसआई पूर्णिमा श्रीवास्तव द्वारा डाक मतपत्र कैंटीन में रखे जाने की पुष्टि की गई है। कैंटीन में 74 डाक मतपत्र मिलने के तथ्य रिपोर्ट में हैं।

वहीं, डाक विभाग के डाकिया की त्रुटि भी जांच में शामिल की गई है। गौरतलब है कि मंगलवार को होमगार्ड कैंटीन के काउंटर पर डाक मतपत्रों का बंडल पड़ा था, जिसकी सूचना कांग्रेस नेताओं को मिलने पर हंगामा मचा। सोशल मीडिया पर डाक मतपत्रों की तस्वीरें और वीडियो वायरल हुईं और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को शिकायत भी की गई।

डाक मतपत्र सुरक्षित

इधर, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के मुताबिक डाक मतपत्र मामले में एएसआई पूर्णिमा श्रीवास्तव, नगर सैनिक श्याम सिंह और असील कुमार उइके के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा रही है। किसी भी डाक मतपत्र में छेड़छाड़ नहीं पाई गई है।

आयोग को रिपोर्ट भेज दी

डाक मतपत्र कैंटीन में रखे जाने की घटना को लेकर निर्वाचन आयोग को रिपोर्ट भेज दी गई है। डाक मतपत्रों के कैंटीन में रखने के लिए कौन जिम्मेदार है, इसकी जांच की जा रही है। जिम्मेदारी तय कर कार्रवाई की जाएगी।

- महान भारत सागर, महानिदेशक, होमगार्ड 

Posted By: Hemant Upadhyay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस