भोपाल, नईदुनिया स्टेट ब्यूरो। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह राजधानी के न्यूमार्केट स्थित इंडियन काफी हाउस में पहुंचकर पत्रकारों से काफी देर तक हंसी-मजाक करते रहे। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बन रही है, हम 126 से 132 सीटें जीतेंगे। उन्होंने कांग्रेसियों से अपील भी की कि ईवीएम की निगरानी करें। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कॉफी हाउस आने पर उनका तंज था कि पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए यह अच्छी जगह है।

दिग्विजय ने लंबे समय बाद पत्रकारों के साथ काफी हाउस में करीब तीन घंटे बिताए। इस दौरान प्रदेश की चुनावी और सियासी तस्वीर पर चर्चा के साथ राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर भी उन्होंने बेबाकी से विचार व्यक्त किए। हंसी-मजाक और ठहाकों के बीच वह कांग्रेस पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर मुख्यमंत्री चौहान पर भी देर तक अनौपचारिक रूप से बतियाते रहे।

एक सवाल पर वह बोले कि मैं काफी हाउस 30 साल से निरंतर आ रहा हूं, इस बीच मुख्यमंत्री चौहान के दो दिन पूर्व यहां आने पर उनकी प्रतिक्रिया थी कि 'पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए यह अच्छी जगह है।" उन्होंने यह भी कहा कि शिवराज यहां एसी रेस्टोरेंट में बैठे, जबकि मैं हमेशा नॉन एसी रेस्टोरेंट में ही गपशप करने बैठता हूं।

स्ट्रांग रूम की करें निगरानी

औपचारिक चर्चा के दौरान जब चुनाव और मतदान पर सवाल हुए तो उनका दावा था कि सरकार के खिलाफ वोट हुआ है और मेरा अपना आकलन है कि कांग्रेस को 126 से 132 के बीच में सीटें मिल रही हैं। उन्होंने जिलेवार हर सीट पर जीत-हार के गणित भी समझाए।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कांग्रेसियों से अपील भी कि स्ट्रांग रूम में ईवीएम की निगरानी पर पूरा ध्यान दें, जिस नंबर की मशीन पर मतदान हुआ है, मतगणना के दौरान उसका पहले मिलान करें। उन्होंने चुनाव आयोग से भी आग्रह किया कि मशीनों की सुरक्षा और पारदर्शिता की गारंटी लें।

योगी ने की नाथ संप्रदाय की अवमानना - दिग्विजय

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 'अली-बजरंगबली" बयान पर दिग्विजय बोले यह गलत है। योगी ने नाथ संप्रदाय की अवमानना की है, वह अपनी पीठ के विरुद्ध आचरण कर रहे हैं। दिग्विजय ने बताया कि 'मैं गुरु गोरखनाथ पीठ का बहुत आदर करता हूं मेरे पूर्वज गुरु गोरखनाथ के अनुयायी थे।"

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा मुख्य मुद्दों से भटकाने के लिए इस तरह की बयानबाजी करती है और देश को 18वीं सदी में ले जाना चाहती है। उन्होंने पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पाकिस्तान यात्रा और करतारपुर साहिब कॉरिडोर शिलान्यास में भाग लेने को दोनों देशों को मिलाने वाला कदम बताया।

Posted By: Rahul.vavikar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप