भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस की कथनी और करनी में जमीन आसमान का अंतर है। कांग्रेस किसानों के साथ हमेशा से धोखा करती आई है। जिस तरह कांग्रेस ने पंजाब और कर्नाटक के किसानों के साथ कर्जमाफी को लेकर धोखेबाजी की, ठीक उसी तरह मध्यप्रदेश के किसानों के साथ छलावा कर रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में सरकार बनाने के बाद यह संदेश देना चाहती थी कि उसने कर्जमाफी का निर्णय ले लिया है, लेकिन कांग्रेस सरकार का यह निर्णय किसानों के साथ धोखा साबित हुआ है। कर्जमाफी के आदेश के नाम पर कमलनाथ सरकार किसानों में भ्रम फैलाने की कोशिश कर रही है।

सिंह ने कहा कि कर्ज माफी के आदेश में उन्होंने 'पात्रता" शब्द को जाेडकर किसानों के साथ छलावा किया। वहीं 'अल्पकालीन फसल ऋण" का उल्लेख कर उन किसानों को कर्ज माफी की परिधि से दूर कर दिया, जिन्होंने खेती के लिए कृषि यंत्रों को खरीदा।

उन्होंने कहा कि 31 मार्च 2018 तक के किसानों के कर्ज माफ करने की जो बात कही गई है। इससे आदेश की परिधि में सिर्फ वे किसान आएंगे, जो 31 मार्च 2018 की स्थिति में डिफाल्टर हो चुके थे। कांग्रेस ने खरीफ की सारी फसलों को इस आदेश में छोड़कर किसानों के साथ छलावा किया है। उन्होंने कहा कि भापा हमेशा किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी रही है। भाजपा अब एक कमेटी बनाएगी, जो किसानों के हित में इन सारी बातों का अध्ययन कर कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश करेगी। 

Posted By: Hemant Upadhyay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस