ग्वालियर। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में टिकटों के बंटवारे को लेकर कई उम्मीदवार आहत हैं। पार्टी के फैसले के खिलाफ कोई निर्दलीय चुनाव मैदान में ताल ठोंकने की बात कर रहा है, तो किसी ने पार्टी ही बदल ली, लेकिन ग्वालियर में तो कांग्रेस के पूर्व जिला महामंत्री प्रेम सिंह कुश्वाह टिकट नहीं मिलने से इतना आहत हुए कि चूहे मारने की दवा ही खा ली। उन्होंने कांग्रेस नेता माधराव सिंधिया की प्रतिमा के पास जहर खाया। आनन-फानन में उन्हें जेएएच अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनका गंभीर हालत में इलाज चल रहा है।  

प्रेमसिंह कुशवाह ग्वालियर दक्षिण और ग्वालियर पूर्व विधानसभा से टिकट मांग रहे थे, लेकिन कांग्रेस ने उन्हें कहीं से टिकट नहीं दिया। बीते रोज ग्वालियर दक्षिण से सुरेश पचौरी समर्थक प्रवीण पाठक का टिकट घोषित होते उनकी आखिरी उम्मीद भी ख़त्म हो गई। टिकट के ऐलान के बाद से ही प्रवीण का विरोध हो रहा था। ग्वालियर शहर में ज्योतिरादित्य सिंधिया के पोस्टर फाड़ दिए गए थे।

प्रेमसिंह ने अपने समर्थकों के साथ जयविलास पैलेस के सामने धरना दिया था। प्रेमसिंह को उम्मीद थी कि पार्टी अंतिम समय पर उम्मीदवार बदलकर उनका नाम घोषित कर देगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। नामांकन के आखिरी दिन फार्म भरने का समय निकल जाने के बाद उन्होंने जहर खा लिया। पूर्व महामंत्री कुश्वाह ने पार्टी पर आरोप लगाया कि वो बाहरी नेताओं को टिकट दे रही है। 

Posted By: Saurabh Mishra