भोपाल। हमारे विधायकों का मानना है कि सीटों के गणित में भले ही कांग्रेस आगे हो, लेकिन जनता ने कांग्रेस को बहुमत नहीं दिया है। इस लिहाज से मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार एक कमजोर सरकार है। कांग्रेस अपने आपस के कारणों के चलते कितने दिन सरकार चला पाती है, यह देखना होगा। ये बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने कही।

सिंह गुरुवार को प्रदेश कार्यालय में भाजपा विधायकों की बैठक के बाद मीडिया से अनौपचारिक चर्चा कर रहे थे। जबलपुर, सागर, ग्वालियर-चंबल और शहडोल व रीवा संभाग के विधायकों की बैठक शुरू होने से पहले ही नेताओं ने सभी से कहा कि ये फोरम शिकवे-शिकायत का नहीं है, इसलिए इस बारे में कोई कुछ नहीं कहेगा।

विंध्य की तारीफ

बैठक में भाजपा नेताओं ने विंध्य की तारीफ की। नेताओं ने कहा कि उम्मीद से अधिक विंध्य में सफलता मिली है। इसके साथ ही नेताओं ने विधायकों को चेतावनी दी कि वे सभी अपने क्षेत्र में एक्टिव रहें। जितनी लीड विधानसभा चुनाव में मिली है, उससे ज्यादा लोकसभा में मिले, इस बात का ध्यान सभी रखें।

साथ में यह भी कहा गया कि कांग्रेस सरकार के खिलाफ धरने में हर विधायक अनिवार्य रूप से शामिल हो। पार्टी नेताओं ने कहा कि अब तक ये शिकायत मिलती थीं कि विधायक धरने-प्रदर्शन नहीं आते हैं। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए।

Posted By: Hemant Upadhyay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस