तिरुवनंतपुरम, एएनआइ। भारतीय चुनाव आयोग ने आज यानी शुक्रवार शाम 4.30 बजे प्रेस कांफ्रेंस की। इस कांफ्रेंस में आयोग ने असम, केरल, ​तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान किया। बता दें कि केरल में 140 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं। निवर्तमान विधानसभा में आठ महिला विधायक हैं और बाकी 132 पुरुष विधायक हैं। 1 जून, 2021 को केरल सरकार का कार्यकाल समाप्त होना है। मुख्य चुनाव आयुक्त, सुनील अरोड़ा ने बताया केरल में पहले 21,498 चुनाव केंद्र थे, अब यहां चुनाव केंद्रों की संख्या 40,771 होगी। 

केरल में विधानसभा चुनाव को लेकर तारीखों का एलान

मुख्य चुनाव आयुक्त, सुनील अरोड़ा ने बताया कि केरल में 6 अप्रैल को चुनाव होंगे। राज्य की 140 सीटों पर एक साथ चुनाव होंगे। 2 मई को मतगणना होगी।

कौन बना सकती है सरकार और बहुमत का क्या है आंकड़ा?

केरल में सीपीआई (एम) के नेतृत्व वाले लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) की सरकार है। राज्य के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन हैं। पिछले चुनाव में एलडीएफ को 91 और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) को 47 सीटें मिली थीं। राज्य में बहुमत के लिए 71 सीटें जरूरी हैं। केरल विधानसभा (विधानसभा) में कुल 140 सीटें हैं, जिनमें से 14 सीटें अनुसूचित जाति के लिए और दो सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। बता दें कि केरल में चुनाव पारंपरिक रूप से यूडीएफ और एलडीएफ के बीच ही लड़ा जाता है। सत्ता इनमें से ही निकलती है। 

केरल में चुनावों की तारीख को लेकर क्या बोले मुख्य चुनाव आयुक्त?

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने केरल में चुनावों को लेकर कहा था कि राज्य के विधानसभा चुनाव विशु, ईस्टर और रमजान जैसे आगामी त्योहारों को ध्यान में रखते हुए अंतिम रूप से तैयार किए जाएंगे। साथ ही चुनाव की तारीखों को इस तरह से अंतिम रूप दिया जाएगा कि यह सीबीएसई और राज्य बोर्ड परीक्षा के साथ टकराए नहीं। 

2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की अगुवाई वाली यूडीएफ जीती

2019 के लोकसभा चुनाव में, कांग्रेस की अगुवाई वाली यूडीएफ ने राज्य की 20 लोकसभा सीटों में से 19 पर सत्ताधारी एलडीएफ के खिलाफ जीत हासिल की थी। हालांकि, विधानसभा चुनावों में इसी तरह के पराक्रम को दोहराना यूडीएफ के लिए एक मुश्किल काम है।

बता दें कि पिछले साल अक्टूबर-नवंबर में बिहार विधानसभा चुनाव के बाद कोरोना वायरस संकट के बीच देश में अब इतने राज्यों में चुनाव होने जा रहे हैं। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021