रांची, (आइएएनएस)। Jharkhand Assembly Election 2019 - जैसे-जैसे झारखंड विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आती जा रही है, सभी राजनीतिक दल प्रत्याशियों के नामों को तय करने में जुट गए हैं। पार्टियां मैराथन बैठक कर रही हैं। मुख्य दलों में भाजपा, कांग्रेस और झामुमो के साथ राजद, झाविमो तथा आजसू जैसी क्षेत्रीय पार्टियां अपने जोड़-गणित में लगी हुई हैं। भाजपा और कांग्रेस जैसी राष्ट्रीय पार्टियों के राज्य स्तरीय नेता दिल्ली में कैंप किए हुए हैं और टिकट फाइनल करने में जुटे हुए हैं।

मुख्यमंत्री रघुवर दास भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ और अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ दिल्ली में टिकटों को अंतिम रूप देने में जुटे हुए हैं। इससे पूर्व बुधवार को रांची में भाजपा की चुनाव समिति की बैठक लक्ष्मण गिलुआ की अध्यक्षता में हुई। इसमें प्रत्याशियों पर चर्चा हुई। भाजपा के सूत्रों के अनुसार, आठ नवंबर को दिल्ली में पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होगी। इसमें प्रत्याशियों के नाम अंतिम रूप से तय हो जाएंगे। सूत्रों के अनुसार, भाजपा की सहयोगी पार्टी आजसू के सुप्रीमो सुदेश महतो भी दिल्ली पहुंच गए हैं। यहां वे सीटों के बंटवारे पर चर्चा करेंगे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जैसे प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव, आलमगीर आलम और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय भी दिल्ली पहुंच गए है। कांग्रेस प्रवक्ता किशोर शाहदेव ने आइएएनएस से बात करते हुए कहा कि पार्टी की स्क्रीनिंग कमेटी ने बुधवार को मुलाकात की। हालांकि सूत्रों का कहना है कि जब तक झामुमो से सीट बंटवारे को लेकर अंतिम निर्णय नहीं हो जाता, कांग्रेस अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं कर सकती।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति इसी हफ्ते प्रत्याशियों के चयन को लेकर बैठक कर सकती है। जहां एक ओर पार्टियां प्रत्याशियों का लिस्ट तैयार कर रही है, वहीं दूसरी ओर टिकटों के दावेदार दिल्ली में हो रही हलचल पर नजर बनाए हुए हैं। 81 सदस्यीय झारखंड विधानसभा का चुनाव पांच चरणों में होगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस