रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान के दौरान शनिवार को डालटेनगंज विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी के पिस्टल लहराने को भाजपा ने आड़े हाथ लिया है। भाजपा की ओर से सुधीर श्रीवास्तव ने मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिखकर इस पूरे प्रकरण में स्पीडी ट्रायल कराने की मांग की है ताकि उन्हें समय पर कड़ी सजा मिल सके। शिकायत में जिक्र है कि उनकी इस हरकत से राज्य की बदनामी हुई है। लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं है।

केएन त्रिपाठी को पिस्तौल जमा करने से दी गई थी छूट

पूर्व मंत्री सह डालटनगंज के कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी को लाइसेंसी पिस्तौल जमा करने से छूट दी गई थी। भारत निर्वाचन आयोग ने विधानसभा चुनाव स्वच्छ और शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सभी लाइसेंस हथियार जमा कराने का निर्देश पुलिस अधीक्षकों को दिया था। लेकिन इसके लिए गठित जिला समिति ने केएन त्रिपाठी को इससे छूट प्रदान कर दी थी। इसे लेकर सवाल उठ रहे हैं।

चुनाव में हथियार जमा नहीं कराने पर भी उठ रहे सवाल, जिला समिति ने लिया था निर्णय

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने इस बाबत पूछने पर कहा कि कुछ लोगों को हथियार जमा करने से छूट देने का अधिकार जिला समिति को है। लेकिन इस घटना के बाद निर्देश दिया जाएगा कि अब किसी व्यक्ति को इससे छूट नहीं दी जाए। यह छूट बैंकों व औद्योगिक प्रतिष्ठानों को ही सुरक्षा के दृष्टिकोण से दी जाएगी।

चुनाव में सभी लाइसेंसी हथियार जमा कराने का था आयोग का निर्देश

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने कुछ लोगों को हथियार जमा करने से छूट की समीक्षा करने तथा पुलिस अधीक्षकों को सख्त निर्देश देने की बात कही। बता दें कि शनिवार को डालटनगंज में कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी भाजपा प्रत्याशी के समर्थकों के विरुद्ध पिस्तौल लहरा रहे थे। हालांकि त्रिपाठी ने सफाई दी है कि उन्होंने आत्मरक्षा में ऐसा किया। फिलहाल उनका पिस्तौल जब्त कर लिया गया है और इस मामले में दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021