रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 - पुलिस-प्रशासन ने निष्पक्ष चुनाव को केंद्र में रखकर 6,547 हथियार जमा कराए हैं। ये हथियार उन 17 विधानसभा क्षेत्रों के हैं, जहां झारखंड विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत गुरुवार को चुनाव कराए जा रहे हैं। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने बुधवार को पत्रकारों को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि संबंधित विस क्षेत्रों में हथियारों की कुल संख्या 7,857 हैं।

विशेष कारणों से 1,310 हथियार जमा नहीं कराए गए हैं। ये हथियार बैंकों, कुछ चिकित्सकों व अन्य प्रतिष्ठानों के हैं। इसके बदले हथियार के मालिकों से इस आशय का शपथ पत्र लिया गया है कि वे चुनाव के दौरान किसी भी कीमत पर हथियार लेकर बाहर नहीं निकलेंगे। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि सुरक्षात्मक दृष्टि से 3,751 गैर जमानती वारंट तामिला किए गए हैं।

इससे इतर, 167 गैर जमानती वारंट लंबित हैं। बताते चलें कि प्रथम चरण के चुनाव के दौरान एक प्रत्याशी द्वारा रिवाल्वर लहराए जाने पर खासा बवाल मचा था। इसे केंद्र में रखकर आयोग ने इस बार इस मामले में खास सख्ती बरतने का निर्देश पुलिस-प्रशासन को दिया है।

नकदी समेत 13.88 करोड़ की सामग्री बरामद

राज्य निर्वाचन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार 10 दिसंबर तक नकदी समेत कुल 13 करोड़ 88 लाख 54 हजार 101 रुपये की सामग्री बरामद की गई है। रिपोर्ट के अनुसार छह करोड़ आठ लाख 59 हजार 876 रुपये नकद बरामद किए गए हैं। इससे इतर, 64 लाख 93 हजार 553 रुपये मूल्य के ड्रग्स, दो करोड़ 49 लाख 81 हजार 793 रुपये के जेवर के अलावा एक करोड़ 40 लाख आठ हजार 710 रुपये मूल्य की अन्य सामग्री जब्त की गई है।

आचार संहिता उल्लंघन के मामले में 107 प्राथमिकी

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के अनुसार आचार संहिता उल्लंघन के मामले में 10 जनवरी तक कुल 107 प्राथमिकियां दर्ज कराई गई हैं। इनमें पलामू में 16, पूर्वी सिंहभूम में 17, धनबाद में सात, गढ़वा में 11, गिरिडीह में 13, रांची में तीन, बोकारो में आठ, सरायकेला-खरसावां, सिमडेगा, पाकुड़, गुमला व चतरा में एक-एक, जामताड़ा व कोडरमा में चार-चार, लोहरदगा व साहिबगंज में दो-दो, रामगढ़ में नौ तथा गोड्डा में छह प्राथमिकियां दर्ज कराई गई हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस