फरीदाबाद [सुशील भाटिया]। Haryana Assembly Election-2019: हरियाणा के दो बार मुख्यमंत्री रहे और अब कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा पल भर भी सिर पर नेहरू टोपी धारण नहीं कर सके।

रविवार को फरीदाबाद के सेक्टर-16 की अनाज मंडी में आयोजित कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन के जरिए हरियाणा विधानसभा का चुनावी बिगुल फूंकने आए कांग्रेसी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा को जब स्थानीय नेताओं ने नेहरू टोपी पहनाई तो क्षण भर भी सिर पर धारण नहीं की और अगले ही पल टोपी उतार कर धर दी।

इस बीच उन्हें टोपी उतारे देख विधायक ललित नागर व कांग्रेसी नेता जेपी नागर सहित अन्य स्थानीय नेताओं ने भी तुरंत नेहरू टोपी उतार दी। इन वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं द्वारा टोपी उतारे जाने की चर्चा वहां उपस्थित कार्यकर्ताओं में होने लगी।

कभी कांग्रेसी शान से पहनते थे नेहरू टोपी

नेहरू टोपी कांग्रेस के पुराने नेता स्वाभिमान से पहना करते थे और कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ता व नेता भी हमेशा से इस टोपी को पहन कर शान समझते रहे हैं लेकिन आज उसी पार्टी के नेताओं ने टोपी का जिस प्रकार से अनादर किया है लोगों में चर्चा होने लगी और इसका नकारात्मक संदेश गया है। हैरानी की बात है मंच से विभिन्न पूर्व मंत्री और विधायक जवाहरलाल नेहरू इंदिरा गांधी और कांग्रेस के प्राचीन इतिहास के गुण गाते रहे।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप