जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव के प्रचार का आगाज करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आप और कांग्रेस को निशाने पर लिया। केंद्रीय गृहमंत्री ने अपने आधे घंटे के संबोधन में अनुच्छेद 370 को हटाने, नागरिकता संशोधन कानून को लागू करने के साथ ही अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने की बात जनता के सामने रखी। साथ ही कहा कि पांच साल पहले के वादे अरविंद केजरीवाल भले ही भूल चुके हों, लेकिन जनता कभी नहीं भूल सकती। केजरीवाल के कारण केंद्र सरकार की ओर से चलाई जा रही जनकल्याण से जुड़ी 112 योजनाओं से आज दिल्ली की जनता वंचित है। केजरीवाल ने जनता को सिर्फ ठगने का काम किया है। झूठ बोलने की प्रतियोगिता हो तो उसमें वह नंबर वन होंगे।

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल ने एक हजार विद्यालय व 20 नए कॉलेज बनाने की बात कही थी। 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने की भी बात कही थी। इनमें से एक भी वादा पूरा नहीं हुआ। उन्होंने आठ लाख लोगों को रोजगार देने की बात कही थी, लेकिन नए रोजगार तो दूर की बात, जो लोग नौकरी में थे, उन्हें भी नौकरी से निकाल दिया गया। शाह ने कहा कि अभी सभास्थल पर पहुंचने से पहले उन्होंने अपने मोबाइल में कहीं भी मुफ्त वाई- फाई का सिग्नल नहीं पाया। इंतजार करते-करते मेरे मोबाइल की बैट्री खत्म हो गई पर मुफ्त वाई-फाई नहीं मिला।

केजरीवाल सरकार डाल रही अड़चन: शाह

शाह ने कहा कि अन्ना हजारे के जिस लोकपाल कानून को लागू करने की बात अरविंद केजरीवाल ने कही थी, उसे वह कब का भूल चुके हैं। इसके विपरीत जिस लोकपाल कानून को नरेंद्र मोदी की सरकार ने लागू किया, उसे भी लागू नहीं होने दे रहे हैं। केंद्र सरकार जहां भी फ्लाईओवर बना रही है, वहां अरविंद केजरीवाल की सरकार अड़चन डाल देती है। मुफ्त में पानी देने की बात दिल्ली सरकार करती है, लेकिन हकीकत यह है कि दिल्ली के लोगों को दूषित पानी पीना पड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंगा को निर्मल बना दिया। दिल्ली की जनता अगर भाजपा को मौका देगी तो यमुना को भी निर्मल बना देंगे।

अनधिकृत कॉलोनियों को केंद्र सरकार ने किया नियमित: शाह

शाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने अनधिकृत कॉलोनी को नियमित कर दिया। लेकिन केजरीवाल सरकार ने इस कार्य में काफी अड़ंगे लगाए। केंद्र सरकार ने तीन बार अनधिकृत कॉलोनी को नियमित करने की फाइल दिल्ली सरकार के पास भेजी, लेकिन मंजूरी नहीं मिली। इस बार हम लोगों ने बिना दिल्ली सरकार को फाइल भेजे ही अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित कर दिया। नियमित होने के बाद सिर्फ पांच हजार रुपये में मकान की रजिस्ट्री हो जाएगी। पांच हजार में तो आजकल टेलीविजन भी नहीं खरीदा जा सकता है। दिल्ली सरकार आज आयुष्मान भारत योजना से यहां की जनता को वंचित रखे हुए है। सरकार बनते ही यहां आयुष्मान भारत योजना को लागू किया जाएगा।

शाह ने कांग्रेस पर भी साधा निशाना

अमित शाह ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने तय किया कि अनुच्छेद 370 को हटाया जाएगा तो कांग्रेस कह रही थी कि ऐसा करने से खूनखराबा होगा। लेकिन, एक बूंद खून गिरे बिना केंद्र सरकार ने कश्मीर को हमारे देश का मुकुटमणि बनाया और अनुच्छेद 370 को हटाया। इसी तरह कांग्रेस अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं होने देना चाहती थी। लेकिन आने वाले चार महीने में अयोध्या में हम लोग भव्य राम मंदिर का भी निर्माण करेंगे। कांग्रेस वोट बैंक के कारण पाकिस्तान की भाषा बोलती है। कांग्रेस केवल विरोध की राजनीति जानती है। नागरिकता संशोधन कानून हो या तीन तलाक का मुद्दा कांग्रेस सिर्फ विरोध करती है। पाकिस्तान के नेता कांग्रेस की नीतियों का समर्थन करते हैं।

गृह मंत्री ने जेएनयू प्रकरण पर कहा कि वहां कुछ लड़के भारत के टुकड़े करने के नारे लगाते हैं। हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि जो भारत माता के टुकड़े करने की बात कहेगा, उसे हर हाल में जेल ही भेजा जाएगा। नागरिकता संशोधन कानून के बारे में गृह मंत्री ने कहा कि आज पाकिस्तान व अन्य पड़ोसी देशों से आए हिंदू, सिख, पारसी, बौद्ध व इसाई शरणार्थी भारत में सम्मान के साथ जीना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस को इससे भी एतराज है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस