नई दिल्ली [निहाल सिंह]। Delhi Election 2020 : दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 के लिए मंगलवार को आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने 7 घंटे के लंबे इंतजार के बाद नई दिल्ली विधानसभा सीट से नामांकन दाखिल किया। दरअसल, नामांकन का अंतिम होने के चलते सिर्फ नई दिल्ली विधानसभा सीट पर नामांकन के लिए 30 से अधिक प्रत्याशी पहुंच गए। इसके चलते न केवल भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी सुनील यादव को बल्कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लंबा इंतजार करना पड़ा। बतौर प्रत्याशी AAP मुखिया को टोकन नंबर 45 मिला था, वह शाम छह बजे के आसपास नामांकन दाखिल कर पाए।

लंबे इंतजार के दौरान AAP मुखिया अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया- 'पर्चा दाखिल करने का इंतजार कर रहा हूं, मेरा टोकन नंबर 45 है। यहां पर्चा भरने के लिए कई लोग लाइन में लगे हैं, मुझे बहुत खुशी है कि लोकतंत्र के इस पर्व में कई लोग शिरकत कर रहे हैं।'

यहां पर बता दें कि नई दिल्ली सीट पर 30 से ज्यादा दिल्ली परिवहन निगम के कर्मचारियों ने पर्चा दाखिल किया है, ये सभी अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।

भारतीय निर्वाचन आयोग की वेसबाइट के मुताबिक, 8 बजे तक नई दिल्ली विधानसभा सीट पर 64 प्रत्याशियों का नामांकन अपलोड हो चुका है, ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस सीट पर सबसे ज्यादा प्रताशी चुनाव लड़ें। ऐसा हुआ तो यह पहली बार होगा, जब किसी सीएम कैंडिडेट को इतने उम्मीदवारों का सामना करना पड़ा। इन प्रत्याशियों में भारतीय जनता  पार्टी और कांग्रेस के साथ डीटीसी के 30 से अधिक पूर्व कर्मचारी भी हो सकते हैं,  जिन्होंने इस सीट से नामांकन किया है। 

बता दें कि मंगलवार को अरविंद केजरीवाल को नामांकन के लिए इसलिए भी इंतजार करना पड़ा, क्योंकि ज्यादातर नामांकन करने पहुंचे थे डीटीसी से पूर्व कर्मचारी। इन्हें 2018 में निकाल दिया गया था।  इनमें से 30 ने नामांकन दाखिल किया है।

 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस