नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। हरियाणा के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के बेहतर प्रदर्शन से दिल्ली कांग्रेस को भी संजीवनी मिल गई है। प्रदेश के अधिकांश प्रमुख नेता, पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं में उत्साह देखने को मिल रहा है। पार्टी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा और चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष कीर्ति आजाद का कहना है कि अबकी बार दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी पार्टी सफलता का इतिहास दोहराएगी।

पार्टी सूत्र बताते हैं कि हरियाणा में कांग्रेस का ग्राफ बढ़ने से आलाकमान ने दिल्ली पर खास फोकस किया है। सोनिया गांधी ने वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सुभाष चोपड़ा पर दांव लगाकर एक तीर से कई निशाने साधने की कोशिश की है। कीर्ति आजाद को विधानसभा चुनाव 2020 के लिए चुनाव अभियान समिति का प्रभारी बनाकर भाजपा और आम आदमी पार्टी के सामने भी चुनौती पेश कर दी है। कांग्रेस आलाकमान ने चोपड़ा को अध्यक्ष बनाकर पंजाबी मतदाताओं को साधने की कोशिश की है तो कीर्ति आजाद को अभियान समिति का अध्यक्ष बनाकर पूर्वांचल के मतदाताओं को वापस लाने का दांव खेला है।

दिल्ली की सियासत में पंजाबी और पूर्वांचली मतदाता ‘किंगमेकर’ माने जाते हैं। यहां 15 फीसद पंजाबी मतदाता हैं तो 35 फीसद पूर्वांचली मतदाता हैं। इनका साथ मिला तो कांग्रेस दिल्ली में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन कर सकती है।

मनोज तिवारी, संजय सिंह के जवाब में कीर्ति आजाद

भाजपा ने पूर्वाचलियों को साधने के लिए जिस तरह से मनोज तिवारी और आम आदमी पार्टी (आप) ने संजय सिंह को आगे किया हुआ है, उसी तर्ज पर कांग्रेस में अब कीर्ति आजाद का नाम सामने आया है। कीर्ति आजाद एक अच्छे क्रिकेटर होने के साथ-साथ एक अच्छे वक्ता भी माने जाते हैं।

सफलता का इतिहास दोहराएंगे

कीर्ति आजाद ने बृहस्पतिवार को कहा कि दिल्ली में कांग्रेस एक बार फिर से सफलता का इतिहास दोहराएगी। वैसे भी दिल्ली में विकास का जितना भी काम हुआ है, सब कांग्रेस के समय हुआ है। केजरीवाल सरकार ने अपने पांच साल में ऐसा कोई काम नहीं किया, जिसे वह अपना कह सके। आगामी विधानसभा चुनावों पर कीर्ति ने कहा कि चुनावों के लिए हम पूरी रणनीति बनाएंगे, जिसमें हर वर्ग का प्रतिनिधित्व होगा। इसमें महिला सुरक्षा, रोजगार, जाम से छुटकारा दिलाना, बिजली-पानी सभी शामिल होंगे।

केजरीवाल की नारेबाजी खोखली

सुभाष चोपड़ा ने कहा कि वह प्रदेश कांग्रेस को एकजट करेंगे। उनका लक्ष्य विधानसभा चुनाव है। जिसमें वह तत्कालीन शीला सरकार के विकास के कामों को लेकर मैदान में उतरेंगे। पत्रकारों से बातचीत में केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री केवल खोखली नारेबाजी कर दिल्ली की जनता को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस