नई दिल्‍ली, एएनआइ। दिल्‍ली के सीएम को आतंकवादी बताने वाले बयान पर आम आदमी पार्टी भाजपा पर हमलावर हो गई है। इस मुद्दे को लेकर आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है। आम आदमी पार्टी की तरफ से दर्ज की गई शिकायत में पश्‍चिम दिल्‍ली के भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा पर एफआइआर दर्ज कराने की मांग की है।

क्‍या है भाजपा सांसद का बयान

दिल्‍ली की चुनावी सभा में नेता लगातार एक दूसरे पर हमलावर हो रहे हैं। शब्‍दों के बाण तीखे होते जा रहे हैं। इस कड़ी में भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा का नाम भी शामिल है। भाजपा सांसद ने अपने एक बयान में दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की तुलना आतंकवादी से कर दी थी। उन्‍होंने मादीपुर विधानसभा क्षेत्र में एक सभा में कहा था कि केजरीवाल नटवरलाल जैसे आतंकवादी देश में छुप कर बैठे हैं। हमें तो यह सोचने पर मजबूर होना पड़ता है कि हम कश्‍मीर में पाकिस्‍तानी आतंकवादी से लड़े या केजरीवाल जैसे आतंकवादी से इस देश में लड़ें।

एक भी आदमी नजर नहीं आएगा शाहीन बाग में

इससे पहले पश्चिमी दिल्ली के सांसद प्रवेश वर्मा ने रणहौला में आयोजित सभा के दौरान अपने संबोधन में शाहीन बाग में चल रहे आंदोलन को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अगर भाजपा की सरकार बनी तो एक घंटे के अंदर पूरे शाहीन बाग को खाली करा लिया जाएगा। शाहीन बाग में एक भी आदमी नजर नहीं आएगा। उन्होंने कहा कि आज शाहीन बाग में पांच लाख लोग जुटे हैं, यदि दिल्ली में भाजपा की सरकार नहीं बनी तो वहां 20 लाख लोग जुटेंगे। ऐसी स्थिति न हो, इसके लिए जरूरी है कि दिल्ली में भाजपा की सरकार बने।

शाहीन बाग की आग में पूरी दिल्‍ली झुलस रही

विकासपुरी सीट से भाजपा प्रत्याशी संजय सिंह के समर्थन में आयोजित सभा में प्रवेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली की जनता नहीं जागी तो शाहीन बाग की आग पूरी दिल्ली को चपेट में ले लेगी। शाहीन बाग में जो भीड़ जुट रही है, उसके तेवर में धमकी है। वे भीड़ जुटाकर अपनी ताकत दिखा रहे हैं। इस ताकत का इस्तेमाल दिल्ली की जनता को डराने में किया जा रहा है, जो सही नहीं है। प्रवेश वर्मा यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि अभी दिल्ली के लोगों को लग रहा है कि आग केवल ओखला में लगी है। उस आग से हमें क्या लेना देना है, लेकिन हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि जल्द ही यह आग हमारे क्षेत्र को भी चपेट में ले लेगी और तब हमें डरकर रहना होगा। तब हम उस दिन को कोसेंगे और खुद से ही यह सवाल करेंगे कि आखिर इनका विरोध क्यों नहीं किया गया।

पहले भी दिए हैं उत्‍तेजनक बयान

प्रवेश वर्मा ने अपने संबोधन में सरकारी जमीन पर बनी मस्जिदों व कब्रिस्तान का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि यदि दिल्ली में भाजपा की सरकार बनी तो एक महीने के अंदर उनके क्षेत्र में सरकारी जमीन पर जितनी भी मस्जिदें बनी हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा भी उन्होंने कई अन्य उत्तेजक बयान दिए हैं।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस