रायपुर, राज्य ब्यूरो। राज्य में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है। 12 नवबंर व 20 नवंबर को दो चरणों में मतदान होगा। ऐसे में राजनीतिक दलों में अब टिकट वितरण को लेकर खींचतान जारी है। बसपा के साथ गठबंन के बाद जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने वैसे तो अपने कोटे के 55 सीटों में 45 के टिकट का एलान कर दिया है। (जिसमें पांच अब बसपा के खाते में हैं) कुल मिलाकर अब 15 सीटों पर टिकटों का एलान होना बाकी है। पार्टी ने अभी अपने मुखिया जोगी के परिजनों के टिकटों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं किया है।

जकांछ के जारी टिकटों की सूची में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को राजनांदगांव से उम्मीदवार बनाया गया है पर जोगी वहां से लड़ेंगे कि नहीं इस बात पर अभी संशय बना हुआ है। अभी तक कांग्रेस की विधायक रहीं डॉ. रेणु जोगी के भी जकांछ से ही चुनाव लड़ने की संभावना है। इसके बाद परिवार के दो और सदस्य अजीत जोगी के पुत्र मारवाही से विधायक अमित जोगी व उनकी पत्नी ऋचा जोगी का भी टिकट फाइनल होना शेष है। ऐसे में क्या अजीत जोगी कुनबा केबल घोषणा देने वाली 15 सीटों में से ही चुनाव लड़ेंगे या फिर पार्टी उम्मीदवार बदलेगी यह रहस्य बना हुआ है।

वैसे मानेंद्रगढ़, मारवाही, कोटा, पाली-तानाखार आदि कुछ ऐसी सीटें हैं जहां से यह दिग्गज मैदान में उतर सकते हैं। अटकलें यह भी लगाई जा रही हैं कि जोगी परिवार से सिर्फ अजीत जोगी व अमित जोगी ही चुनाव लड़ेंगे। कयास यह भी है कि ऋचा जोगी को बहुजन समाज पार्टी बिलासपुर के किसी सीट से अपने दल का उम्मीदवार बना सकती है। खैर क्या होगा यह तो आने वाले कुछ दिनों में स्पष्ट हो जाएगा पर जोगी परिवार के सदस्यों के टिकट की घोषणा अभी रहस्य बना हुआ है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021