मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रायपुर, राज्य ब्यूरो। कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन की बैठक में छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम तय करने को लेकर चल रही कवायद के बीच कार्यकर्ताओं का असंतोष जमकर नजर आने लगा है। कांग्रेस द्वारा उम्मीदवारों के नाम की घोषणा के पहले पैनल में आरंग विधानसभा क्षेत्र से शिव डहरिया का नाम सामने आने के बाद कार्यकर्ता अपने ही प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी के विरोध में उतर आए।

शनिवार की शाम जैसे ही प्रदेश चुनाव प्रभारी पीएल पुनिया और भूपेश बघेल दिल्ली से रायपुर लौटे, आरंग विधानसभा क्षेत्र के हजारों कार्यकर्ताओं ने उन्हें घेर लिया। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पार्टी में टिकट वितरण के लिए मनमानी बरती जा रही है और स्थानीय चेहरों को दरकिनार कर उम्मीदवार की पैराशूट लैंडिंग कराई जा रही है। बताया जा रहा है कि शिव डहरिया का नाम यहां से पैनल में आगे किया गया है।

इसे देखते हुए कार्यकर्ताओं में व्यापक असंतोष उपज गया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब कांग्रेस कार्यकर्ता अपने ही अध्यक्ष के विरोध में इस तरह उनका घेराव करते नजर आए हैं। बहरहाल अभी कांग्रेस ने प्रत्याशियों की अगली सूची जारी नहीं की है, लेकिन हालात को देखते हुए स्पष्ट है कि आने वाले समय में कार्यकर्ताओं का असंतोष और भी व्यापक रूप में नजर आ सकता है। आरंग से कांग्रेस की तरफ से करीब 20 लोगों ने अपनी दावेदारी सामने रखी है।

पुनिया ने कहा- अभी टिकट पर फैसला नहीं हुआ

विरोध को देखते हुए कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि अभी आरंग विधानसभा सीट की टिकट के लिए कोई निर्णय नहीं हुआ है। कार्यकर्ता संगठन पर भरोसा रखें। योग्य उम्मीदवार को टिकट जरूर मिलेगा। लोकतंत्र में सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है। कार्यकर्ता भी संगठन के समक्ष अपनी बातें रख सकते हैं। उन्होंने आगे कहा कि 22 अक्टूबर को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी किसान सम्मेलन में शामिल होने के लिए आ रहे हैं। वे यहां अपनी बातें रखेंगे।

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप