रायपुर । छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी व कांग्रेस का विकल्प होने का दावा करने वाले जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के दोनों मुखिया अगली सरकार को समर्थन देने के सवाल पर आमने-सामने हो गए हैं। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुखिया अजीत जोगी ने कहा कि अगली सरकार बनाने में यदि समर्थन करने जैसी स्थिति उत्पन्न् हुई तो वे भारतीय जनता पार्टी के साथ जाएंगे। छत्तीसगढ़ दौरे पर आईं मायावती ने इस बात को खारिज करते हुए कहा कि हम विपक्ष में बैठना पसंद करेंगे पर भाजपा को समर्थन देने का सवाल ही नहीं उठता।

अजीत जोगी ने बिना मायावती से सलाह मशविरे के एक बयान देते हुए कहा कि वैसे तो इस बार गठबंधन की ही सरकार राज्य में बनेगी पर यदि किसी परिस्थिति वश ऐसा नहीं हुआ तो वे भाजपा को अपना समर्थन देना चाहेंगे।

फिर क्या था मायावती के छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान जब उनके समक्ष यह मामला उठा तो माया ने कहा भाजपा के साथ जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता वे विपक्ष में बैठना पसंद करेंगी। गठबंधन के दोनों प्रमुखों के विरोधाभाषी बयान को देखते हुए गठबंधन के भविष्य को लेकर चर्चा प्रारंभ हो गई है।

कांग्रेस तो पहले से कह रही जोगी हैं भाजपा की बी टीम : सिंहदेव

नेता प्रतिपक्ष टीएस सिहंदेव ने कहा कि कांग्रेस तो पहले से कहती रही है कि जोगी भाजपा की बी टीम हैं। राजनाथ सिंह और जोगी के बयान से इस बात की पुष्टि भी हो गई है। जोगी के भाजपा समर्थन से कांग्रेस की सेहत पर कोई नुकसान नहीं होगा। कांग्रेस अकेले प्रदेश में सरकार बनाने जा रही है।

Posted By: Sandeep Chourey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप