बिलासपुर, राज्य ब्यूरो। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के सुप्रीमो अजीत जोगी अब मरवाही सीट से चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। इस दौरान मंगलवार को जोगी की मरवाही के एक कांग्रेस नेता दया वाकरे के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हो रहा है, कथित ऑडियो में जोगी उनसे अपने लिए समर्थन की मांग कर रहे हैं।

तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में अजीत जोगी मरवाही सीट से ही कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में उपचुनाव जीत कर सदन में पहुंचे थे। यही कारण है कि मरवाही के कांग्रेस जनों को उनके द्वारा व्यक्तिगत तौर पर फोन करने से सियासी पारा गरम हो गया है।

जोगी और वाकरे के बीच बातचीत के प्रमुख अंश

जोगी-हैलो,वाकरे जी

वाकरे-जी प्रमाण बाबू जी

जोगी-वाकरे जी ,जय जोहार,बने-बने हव

वाकरे-हां बाबूजी ... आपका आशीर्वाद है,सब ठीक है ।

जोगी- वाकरे जी आप हमेशा साथ दिए हो । फिर लड़ रहा हूं मरवाही से,आपको पूरी ताकत लगानी पड़ेगी,मैं बार-बार नहीं आ पाऊंगा,सब आप लोगों को ही देखना है।

वाकरे- क्या बताएं बाबूजी,मैं भी तो टिकट का उम्मीदवार हूं ।

जोगी-हां-हां,टिकट नहीं मिलेगा तब तो साथ दोगे न। मेरी जानकारी में गुलाब राय को टिकट मिल रहा है। जब तुमको टिकट नहीं मिलेगा तब तो साथ दोगे न ।

वाकरे-पार्टी छोड़कर कहां जाऊंगा बाबूजी ।

जोगी-अरे यार । परिवार का साथ नहीं दोगे क्या ।

वाकरे-बाबूजी आप ही ने तो कांगे्रस में शामिल कराया था। कैसे पार्टी से गद्दारी करूंगा ।

जोगी-अब कांग्रेस में कुछ रहा नहीं न ।

वाकरे-बाबूजी इस बार गोड़ समाज की मीटिंग हुई है। समाज से किसी को लड़ाने और उनके लिए काम करने का निर्णय हुआ है।

जोगी-जाति से चुनाव तो नहीं होता यार । हम भी तो आपके हैं। इतना तो कर सकते हो मेरे लिए । न उनका करो न मेरा करो ।

वाकरे-समाज के लोग तो नहीं छोड़ेंग बाबूजी ।

जोगी- समाज थोड़ी लड़ता है चुनाव,पार्टी लड़ती है ।

वाकरे- जी बाबूजी ठीक कह रहे हैं।

जोगी-अर्चना को तो भाजपा ने टिकट दिया है। पूरा समाज उसी को वोट करेगा क्या । ऐसा तो नहीं है। सभी गोड़ मुझे छोड़ देंगे। मैं भी आप लोगों के समाज का ही हूं।

वाकरे-इस बार मूड ही बना लिए हैं बाबूजी,समाज के बीच से मौका मिलना चाहिए । प्रत्याशी अपने समाज से हो ।

जोगी-क्या मरवाही मेरा क्षेत्र नहीं है। मैं इस क्षेत्र का नहीं हूं क्या । हमारी मां भी तो गोड़ समाज से थी । कम से कम इतना तो करिए वाकरे जी न उनका करिए और न हमारा करिए । मेरा तो इतना लंबा साथ रहा है। इसका तो ख्याल करो ।

वाकरे-हम लोग तो आपके ही समर्थक हैं बाबूजी । क्या बताएं ।

जोगी-निवेदन है वाकरे जी आपसे । ठीक है।

वाकरे-जी बाबूजी,ठीक है बाबूजी ।

हां जोगी जी का फोन आया था। हम लोग व्यक्ति विशेष से नहीं पार्टी से जुड़े हुए हैं। कांग्रेस पार्टी के लिए काम करेंगे। मैंने उन्हें साफ कह दिया है। ब्लॉक अध्यक्ष को भी मैंने सूचना दे दी है।

- दया वाकरे-कांग्रेस नेता

घुरसिया ग्राम की पदयात्रा के दौरान सभी 13 दावेदार और कार्यकर्ता साथ चल रहे थे। इसी बीच दया को जोगी जी का फोन आया था। मरवाही से चुनाव लड़ने की बात कहते हुए समर्थन मांग रहे थे। हमने इसकी सूचना पीसीसी को दे दी है। हम सब एकजुट हैं। कांग्रेस के लिए काम करेंगे।

मनोज गुप्ता-अध्यक्ष,ब्लॉक कांग्रेस कमेटी मरवाही

Posted By: Ravindra Pratap Sing

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस