नईदुनिया, रायपुर। नौकरी से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हुए आइएएस अफसर ओपी चौधरी चुनौती देकर फंस गए हैं। उन्होंने चुनौती दी थी कि दंतेवाड़ा जमीन घोटाले में वह खुली बहस को तैयार हैं। इसके जवाब में अगले ही दिन आम आदमी पार्टी (आप) के प्रदेश संयोजक डॉ. संकेत ठाकुर ने एलान कर दिया कि वह बहस के लिए तैयार हैं। इसके बाद ओपी चौधरी खामोश हो गए हैं। अब तक उन्होंने आप की चुनौती पर कोई जवाब नहीं दिया है। अब ओपी इस मामले में बात करने को तैयार भी नहीं हैं।

आम आदमी पार्टी ने अब ओपी के खिलाफ मुहिम छेड़ दी है। संकेत ठाकुर ने कहा है कि ओपी के जमीन घोटाले के बाद दंतेवाड़ा में उनके कलेक्टर रहते दूसरे घोटाले भी सामने आ रहे हैं। उन्होंने दावा किया है कि शिक्षा विभाग में किए गए घोटालों के दस्तावेज उनके पास पहुंच गए हैं। जल्द ही सुबूतों के साथ मीडिया के सामने ओपी की सच्चाई लाऊंगा।

आप ने छेड़ी मुहिम
आम आदमी पार्टी ने सोशल मीडिया में मुहिम छेड़ दी है। पूर्व सीबीआइ जज और आम आदमी पार्टी के विधानसभा उम्मीदवार प्रभाकर ग्वाल ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर ओपी से पांच सवाल किए हैं और हां या ना में जवाब मांगा है।

Posted By: Ravindra Pratap Sing