छपरा। सदर प्रखंड स्थित ईवीएम-वीवीपैट वेयर हाऊस में कमीशनिग कार्य में प्रतिनियुक्त किए गए तकनीकी पदाधिकारियों, मास्टर ट्रेनर, सहायकों तथा निर्वाची व सहायक निर्वाची पदाधिकारियों का बुधवार को प्रशिक्षण सह गोष्ठी आयोजित हुआ। जिसे संबोधित करते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कहा कि ईवीएम कमीशनिग निर्वाचन का सबसे महत्वपूर्ण कार्य है। इस पर ही मतदान निर्बाध संपन्न हो पाना सम्भव है। ईवीएम-वीवीपैट वेयर हाऊस में कमीशनिग कार्य में प्रतिनियुक्त किए गए तकनीकी पदाधिकारियों, मास्टर ट्रेनर, सहायकों तथा निर्वाची व सहायक निर्वाची पदाधिकारियों को उन्होंने कहा कि पूरी ईमासनारी दे से कार्य करे। कमीशनिग का कार्य अति महत्वपूर्ण और संवेदनशील है। इसमें जरा भी कोताही या चूक की संभावना नहीं है। डीएम ने कहा कि टीम भावना से समय का अनुपालन करते हुए कार्य सुनिश्चत करेंगे। सीलिग के कुल 26 महत्वपूर्ण बिन्दु हैं, यदि उनको चरणबद्ध ढंग से पालन किया जाए तो यह कार्य बहुत ही आसानी से सुलभ तरीके से संपन्न हो सकता है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक मशीन के लिए चेक लिस्ट उपलब्ध कराया जाएगा जिसपर तकनीकी पदाधिकारी से लेकर सहायक और एआरओ तक प्रमाण पत्र समर्पित करेंगे। चुक या कोताही बरतने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। इस मौके पर बेल के अभियंताओं समेत कोषांग के नदीम अहमद, सुनील कुमार, चन्द्रशेखर कुमार, राधेश्याम सिंह आदि ने हैंडस्आन ट्रेनिग के माध्यम से सीलिग की प्रक्रिया को सिखाया। इस अवसर पर एडीएम डॉ. गगन, अपर समहर्ता विभागीय जांच भरत भूषण, उप विकास आयुक्त अमित कुमार,डीआरडीनिदेशक जनार्दन प्रसाद अग्रवाल, उप निर्वाचन पदाधिकारी रौशन अली, डीएमडब्ल्यूओ रजनीश कुमार राय के साथ ही अन्य निर्वाची व सहायक निर्वाची पदाधिकारी उपस्थित थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस