पटना/ बाराचटटी (गया), जेएनएन । Bihar Gaya Election 2020: गया जिले के बाराचट्टी  अैर इमामगंज विधानसभा के कुछ क्षेत्र में कभी नक्‍सलियों का आतंक होता था। उनके डर से चुनाव के दिन लोग अपने घरों में दुबके रहते थे। इस बार बाराचट्टी विधानसभा क्षेत्र में अंतर्गत धनगांई थाना क्षेत्र के अंतर्गत हाहेसाडी, धनगांई, बेला और पोखरिया मतदान केंद्र पर नक्‍सलियों का खौफ पूरी तरह खत्‍म हो गया है। इन मतदान केंद्रों पर अपने-अपने घरों से निकलकर लोग बड़ी संख्‍या में मतदान केंद्र पर पहुंच रहे हैं। मतदान केंद्रों पर लोग कतार मे खडे होकर अपनी बारी का शांति से इंतजार कर रहे हैं। लोग अपने मत का प्रयोग कर रहे हैं और सुंदर भविष्‍य की उम्‍मीद जता रहे हैं। इमाम गंज विधानसभा क्षेत्र के डुमरिया. बांके बाजार, सेवरा, छकरबंदा जैसे अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सुबह 6:00 बजे से ही सैकड़ों की संख्या में मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए पहुंचे।  इन केंद्रों पर सुरक्षा की कमान सीआरपीएफ, कोबरा और सीआइएसएफ ने संभाल रखी है।

  

सुरक्षा बलों और पुलिस ने संभाला मोर्चा

गया जिले के 10 विधानसभा में से 6 विधानसभा नक्सल प्रभावित क्षेत्र माना जाता है। इस क्षेत्र में विधानसभा चुनाव के एक दिन पूर्व नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति केन बम रखकर दर्ज कराई थी। लेकिन सीआरपीएफ कोबरा और एसएसबी के जवानों ने समय रहते उस दो केन बम को बरामद कर डिफ्यूज कर दिया है।  इस इलाके मे नक्‍सली संगठन द्वारा वोट बहिष्कार करने का कड़े शब्‍दों में एलान किया जाता था। वोट देनेवालों को मौत के घाट उतारने की खुले आम धमकी मिलती थी। उनके डर से मतदाता अपने घरों में दुबके रह जाते थें। आज मतदान को लेकर धनगांई के उप मतदान केंद्रों पर पुलिस ने सक्रियता दिखाई। बीएसएफ ने इलाके में लगातार  सर्च ऑपरेशन चलाया । इस वजह से इलाके में नक्‍सलियों की सक्रियता कम हुई और लोगों में घरों से निकलकर मतदान केंद्रों तक पहुंचने का कांफिडेंस दिखा ।

ज्‍यादा दूरी और खौफ से नहीं डालते थे वोट

विधान सभा चुनाव के दौरान धनगांई के लोगों को पहले पतलुका कलस्टर सेंटर पर मतदान करने जाना पडता था। नक्‍सलियों के उत्‍पाद के कारण यहां मतदान केंद्र बनाना संभव नहीं हो पाता था।  यहां मतदान करने पहुंची सुनैना देवी कहती है कि हमलोग 2019 में लोकसभा चुनाव के बाद  आज मतदान करने यहां आएं हैं। दूरी ज्‍यादा होने के कारण और नक्‍सलियों के डर से वोट देने नही जा पाते थे ।

सुबह से हर मतदान केंद्र पर पहुंचे मतदाता

धनगांई थानाध्यक्ष मुनना कुमार ने बेला मतदान केंद्र पर बताया कि काफी उतसाहित होकर मतदाता अपने-अपने घरों से निकलकर मतदान केंद्र पर पहुंच रहें हैं। खुद ही कतार में खडे होकर शांतिपूर्ण महौल में मतदान कर रहें हैं। अब इस इलाके मे वोट बहिष्कार के खौफ की कोई चर्चा भी नहीं है।

इमामगंज में विशेष उत्‍साह

गया जिले के इमामगंज विधानसभा थाना क्षेत्र के छकर बंदा के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में मतदाताओं में विशेष उत्साह देखने को मिला। अपने मताधिकार के प्रयोग करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के मतदाता लंबी कतार में धैर्यपूर्वक खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे ।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस