जेएनएन, पटना। Bihar Assembly Election 2020: दीघा विधानसभा सीट के लिए इस बार 18 प्रत्याशी मैदान में हैं। वर्ष 2015 में इस सीट पर भाजपा के संजीव चौरसिया ने बाजी मारी थी। निकटतम प्रतिद्वंद्वी जेडीयू के राजीव रंजन प्रसाद को 24779 वोट से हराया था। दूसरे चरण में इस सीट के लिए मतदान संपन्‍न हो चुका है। यहां कुल 34.50 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है।

राजधानी वाटिका, महुआबाग जैसे मनमोहक स्थल के लिए प्रसिद्ध दीघा विधानसभा क्षेत्र में ही मुख्यमंत्री आवास और राजभवन भी है। क्षेत्र का विकास तो हुआ है, पर अभी बहुत कुछ करने की जरूरत है। जलजमाव यहां की प्रमुख समस्या है। इसके स्थायी समाधान के लिए कई योजनाएं मंजूर हुईं हैं, लेकिन धरातल पर उतरने में अभी समय लगेगा।

क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछा है। बेली रोड के समानांतर एक सड़क बन गई। रेलवे लाइन के स्थान पर सिक्स लेन बनने से आधा दर्जन मोहल्ले मुख्य सड़क से जुड़ गए हैं। कई नए क्षेत्र हैं, जहां जलापूर्ति योजना का विस्तार नहीं हो सका है। दीघा-आशियाना रोड के पश्चिमी हिस्से में बसे नेपाली नगर सहित कई मोहल्ले को विकास की दरकार है। बेली रोड में पंच मंदिर से राजवंशी नगर जाने वाली सड़क के चौड़ीकरण से लोगों को काफी राहत मिली है।

क्षेत्र के मुद्दे

मुद्दा पहला

जलजमाव की समस्या से दीघा, निराला नगर, पाटलिपुत्र कॉलोनी, सरिस्ताबाद, मगध कॉलोनी, अनीसाबाद पुलिस कॉलोनी सहित कई मोहल्ले के लोग जूझ रहे हैं। थोड़ी सी बारिश होते ही घुटने भर पानी जमा हो जाता है। समस्या के समाधान के लिए बनी योजनाओं को शीघ्र अमलीजामा पहनाने की जरूरत है।

मुद्दा  दूसरा

राजीव नगर की भूमि का विवाद वर्षों से चल रहा है। 1024 एकड़ भूमि पर लोग बस गए हैं। भूमि अधिग्रहणमुक्त करने की मांग कर रहे हैं। बिजली और आवासीय प्रमाण पत्र मिलने पर से रोक हट गई है।

मुद्दा तीसरा

पाटलिपुत्र रेलवे स्टेशन दीघा-आशियाना और दीघा सड़क से नहीं जुड़ सका। लोगों को बेली रोड जाकर नहर किनारे फोर लेन से होकर जाना पड़ता है। दीघा-आशियाना रोड से स्टेशन तक सड़क बनाने की जरूरत है।

मुद्दा चौथा

बाबा चौक से एएन कॉलेज तक नाले को पाटकर सड़क का निर्माण नहीं हो सका। इस कारण महेश नगर, पटेलनगर, इंद्रपुरी, शिवपुरी, एजी कॉलोनी, सीडीए कॉलोनी के लोग काफी परेशान हैं।

मुद्दा पांचवां

दीघा मालदह आम विलुप्त होने के कगार पर है। बगीचे सिमटते जा रहे हैं। बगीचे के स्थान पर बड़ी-बड़ी इमारतें खड़ी हो गई हैं। कुछ हैं भी तो उनके लगे पेड़ सौ साल से ज्यादा के हो गए हैं। नए पौधे उस अनुपात में लगाए नहीं गए। इसके बचाने के सफल प्रयास करने की जरूरत है।

18 प्रत्याशी मैदान में

संजीव चौरसिया  : भाजपा

शशि यादव : भाकपा माले

अनिल कुमार श्रीवास्तव : लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी

छोटे लाल राय : रा. जनसंभावना पार्टी

शुभम कुमार : निर्दलीय

विकास चंद्र : भारतीय पार्टी लो.

रजनी कुमारी : असली देसी पार्टी

लीना प्रिया : रा. सहयोग पार्टी

संजय कुमार सिन्हा : रालोसपा

शांभवी : निर्दलीय

वारुणी पूर्व : निर्दलीय

माया श्रीवास्तव : भा. सबलोग पार्टी

ओम प्रकाश : अपना किसान पार्टी

मनोज कुमार : जद से.

दीनानाथ पासवान : स्वाभिमान पार्टी

संजय यादव : नेशनल जागरण पार्टी

अनिल कुमार पासवान : लोग जपा से.

जय प्रकाश राय : राकांपा

विस चुनाव 2015

जीत

भाजपा के संजीव चौरसिया

प्राप्त वोट 92671

हार

जेडीयू के राजीव रंजन प्रसाद

प्राप्त वोट 67892

हार का अंतर : 24779

विस चुनाव 2010

जीत

जेडीयू की पूनम देवी

प्राप्त वोट 81247

हार

एलजेपी के सत्यानंद शर्मा

प्राप्त वोट 20785

हार का अंतर : 60462

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस