कैमूर। कोरोना काल में संपन्न कराए गए लोकतंत्र के महापर्व में लोगों ने अपनी खुब भागीदारी निभाई। जिले के चारों विधानसभा में मतदाताओं को कोरोना का डर डिगा नहीं सका। सभी विधानसभा क्षेत्रों के मतदान केंद्रों पर जम कर वोट बरसे। कोरोना काल में भी चुनाव का प्रतिशत ज्यादा कम नहीं रहा। पिछली बार से 0.8 प्रतिशत ही मतदान कम हुआ। जिले के चारों विधानसभा में 58.50 प्रतिशत मतदान हुआ। जबकि पिछली बार 59.39 प्रतिशत मतदान हुआ था। लेकिन कोरोना जैसी स्थिति में 58 प्रतिशत वोट का पोल होना ही जिला प्रशासन के लिए एक गौरव की बात है। मतदान केंद्र पर कोविड के हर गाइडलाइंस का पालन कराते हुए मतदान कराया गया। ज्ञात हो कि पिछली बार 59.39 प्रतिशत मतदान हुआ था। लेकिन इस बार कोरोना काल में जिले के चारों विधानसभा में 58.50 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदाता तथा प्रशासन के मन में आशंका था कि कोविड -19 के इस दौर में मतदान का प्रतिशत ज्यादा कम हो सकता है। लेकिन प्रशासन के लगातार जागरूकता अभियान, आंगनबाड़ी सेविका सहायिका के जागरूकता रैली आदि विभिन्न कार्यक्रमों के कारण जिले में मतदान का प्रतिशत ठीक ठाक रहा। बुधवार को पूरे दिन जिले के चारों विधानसभा में शांतिपूर्ण रूप से चुनाव हुआ। चैनपुर विधानसभा में तीन बजे तक तथा रामगढ़, मोहनियां तथा भभुआ विधानसभा में शाम छह बजे तक मतदान पड़े। कम विधानसभा में कितना प्रतिशत कम हुआ मतदान -

जिले के चारों विधानसभा में पिछली बार से हर विधानसभा में कम मतदान हुआ है। हालांकि भभुआ विधानसभा में मतदान का प्रतिशत पिछली बार से थोड़ा बढ़ा है। चैनपुर विधानसभा में 2015 में 61.40 मतदान हुआ था। लेकिन इस बार 2020 में 60.00 मतदान हुआ है। मोहनियां में 2015 में 61.40 प्रतिशत रहा तो इस बार 54.30 प्रतिशत मतदान हुआ। रामगढ़ विधानसभा में पिछली बार 60.32 प्रतिशत मतदान हुआ था, लेकिन इस बार 60.00 प्रतिशत मतदान हुआ है। वहीं भभुआ विधानसभा में पिछली बार 59.36 मतदान हुआ था, लेकिन इस बार 59.50 प्रतिशत मतदान हुआ। भभुआ विधानसभा में 0.14 प्रतिशत मतदान बढ़ा है। विधानसभा वार मतदान की स्थिति -

विधानसभा - 2020 2015 2010

चैनपुर - 60.00- 61.40 - 60.00

मोहनियां- 54.30 - 56.50 - 55.92

रामगढ़ - 60.00 - 60.32 - 60.37

भभुआ - 59.50 - 59.36 - 57.00

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस