स्वदेश कुमार, पूर्वी दिल्ली

चोरों से रक्षा के लिए लोग पुलिस की तरफ देखते हैं, लेकिन यहां तो पुलिस खुद ही शिकार बन गई। आनंद विहार थाने के अंतर्गत आने वाले श्रेष्ठ विहार इलाके में पुलिस पिकेट से चोर पुलिसकर्मियों का वायरलेस सेट ही चुरा ले गए। एक एएसआइ की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया, लेकिन जब उच्च अधिकारियों तक मामला पहुंचा तो उन्होंने पिकेट पर तैनात एएसआइ चेतन और हेड कांस्टेबल डालचंद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। साथ ही उनके खिलाफ विभागीय जांच की भी सिफारिश की है।

दरअसल, साईं बाबा मंदिर के पास पिकेट पर एएसआइ चेतन और हेड कांस्टेबल डालचंद गत मंगलवार को सुबह आठ से शाम आठ बजे तक की ड्यूटी पर थे। उन्होंने वायरलेस सेट को जैकेट की जेब डाला और उसे कुंडी में लटकाकर ड्यूटी करने लगे। इस दौरान बाहर भी निकल गए। शाम आठ बजे के बाद एएसआइ जयप्रकाश शर्मा हेड कांस्टेबल चांद राम के साथ पिकेट पर ड्यूटी के लिए पहुंचे। चेतन ने उन्हें बताया कि दिन में वे बाहर ड्यूटी पर थे। इसी दौरान कोई उनकी जैकेट से वायरलेस सेट चुरा ले गया। उन्होंने आनंद विहार थाने को फोन पर इसकी सूचना दे दी थी, लेकिन कोई मामला दर्ज नहीं हुआ।

बुधवार सुबह आठ बजे ड्यूटी खत्म करने के बाद एएसआइ जय प्रकाश ने थाने पहुंचकर लिखित शिकायत दी। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया। इस मामले की जानकारी मिलने पर उच्च अधिकारियों ने एएसआइ चेतन और हेड कांस्टेबल डालचंद को तलब किया। यह वायरलेस डालचंद के पास था, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने दोनों पुलिसकर्मियों की लापरवाही मानते हुए उन्हें निलंबित कर दिया।

पुलिस उपायुक्त नूपुर प्रसाद ने घटना की पुष्टि की, लेकिन अधिक विवरण देने से इंकार कर दिया। वहीं, पुलिस सूत्रों ने बताया कि लापरवाही पर कार्रवाई की गई है। वायरलेस अगर नहीं मिलता है तो दोनों पुलिसकर्मियों के वेतन से इसकी भरपाई की जाएगी। वैसे वायरलेस में जीपीएस लगा है। ऐसे में उम्मीद है कि चोरों द्वारा इसे चालू करते ही पुलिस बरामद कर लेगी।

By Jagran