नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को लांसर रोड स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत वैक्सीनेशन सेंटर का दौरा किया और 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को आगे बढ़कर वैक्सीन लगावाने के लिए प्रोत्साहित किया। सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार की इस मुहिम से लोग बहुत खुश हैं। हमने घर से सेंटर तक आने-जाने के लिए ई-रिक्शे का भी इंतजाम किया है। जिस तरह, मतदान से पहले बीएलओ घर-घर जाकर पर्ची देते हैं, उसी तरह वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाॅट की पर्ची दे रहे हैं और लोगों को जागरूक भी कर रहे हैं। सीएम ने कहा कि वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में तरह-तरह की अफवाहें फैली हैं, उनको दूर करने की जिम्मेदारी हम सब की है। सीएम ने अपने देश के चुनाव के प्रशासनिक ढांचे की तारीफ करते हुए कहा कि अगर हम अपने चुनावी ढांचे का पूरे देश में इस्तेमाल करते हैं, तो दो से तीन महीने में सबको वैक्सीन लगा सकते हैं।

45 साल से अधिक उम्र के 30 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज नहीं लगी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार लांसर रोड स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर का दौरा किया और 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को आगे बढ़ कर वैक्सीन लगावाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस दौरान सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा ‘जहां वोट, वहां वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत एक नए किस्म का प्रयोग किया जा रहा है। हमने दिल्ली में देखा है कि 45 साल की उम्र से उपर के लगभग 50 फीसद लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और अभी भी 50 फीसद लोग वैक्सीनेशन से बचे हैं। दिल्ली में करीब 57 लाख लोग 45 साल से अधिक उम्र के हैं और इसमें से करीब 27-28 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और करीब 30 लाख लोगों को अभी वैक्सीन नहीं लगी है।

वैक्सीनेशन सेंटर पर कम लोग आ रहे थे, इसलिए घर-घर जाकर जागरूक कर रही सरकार

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से देखा जा रहा था कि 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए जो वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, वहां पर अधिक संख्या में लोग नहीं आ रहे थे। इसलिए हमें लगा कि अब घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए निमंत्रित करना चाहिए और उन्हें जागरूक करना चाहिए। इसी के मद्देनजर यह नए किस्म का अभियान शुरू किया गया है कि 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ किया जाएगा। लोग जहां पर वोट डालने जाते हैं, वहीं पर उनको वैक्सीन लगाई जा रही है। पोलिंग स्टेशन को ही वैक्सीनेशन सेंटर बना दिया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप