नई दिल्ली (जेएनएन)। केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह की पत्नी भारती सिंह को ब्लैकमेल करने के मामले में दोनों पक्षों की तरफ से समझौता हो सकता है। सूत्रों की मानें तो बुधवार शाम भारती सिंह के वकील आरोपी प्रदीप चौहान के करीबी रिश्तेदार को लेकर तुगलक रोड थाने पहुंचे थे और वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की थी।

यहां पहले तो प्रदीप के रिश्तेदार ने माफी मांगी। फिर दोनों ने पुलिस अधिकारियों के समक्ष समझौता करने की बात कही। पुलिस अधिकारी का कहना है कि अगर दोनों पक्ष समझौता करने के लिए तैयार हैं तो इसमें पुलिस को कोई आपत्ति नहीं है।

सूत्रों की मानें तो भारती सिंह की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करने के बाद तुगलक रोड थाना पुलिस प्रदीप चौहान से तीन बार पूछताछ कर चुकी है। तीनों ही बार उसने पुलिस को बताया कि उसके पास मौजूद ऑडियो-वीडियो में सेना के किसी बड़े अधिकारी व कर्नल की हत्या कराने की साजिश रचने की बातें व लोगों की तस्वीरें कैद हैं।

जनरल वीके सिंह के परिजन सेना के किसी अधिकारी की हत्या कराना चाह रहे हैं। यू-ट्यूब पर भी प्रदीप चौहान ने कुछ ऑडियो-वीडियो डाला था, लेकिन पुलिस के मुकदमा दर्ज करने के बाद उसने यू-ट्यूब से उन्हें हटा लिया था।

पूछताछ के दौरान पुलिस ने उसे अगली बार ऑडियो-वीडियो क्लिप साथ लेकर आने को कहा था, लेकिन तब से वह अपने गुड़गांव स्थित घर पर ताला लगाकर फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

पुलिस का कहना है कि पेशे से प्रॉपर्टी डीलर प्रदीप चौहान के फेसबुक पेज को देखने पर पता चला कि पहले वह भाजपा का समर्थक था। बाद में उसने आम आदमी पार्टी ज्वाइन करने की कोशिश की, लेकिन जब उसे कामयाबी नहीं मिली तो उसने कांग्रेस में जाने की कोशिश की।

ज्ञात हो कि भारती सिंह ने प्रदीप चौहान पर ब्लैकमेल कर दो करोड़ रुपये उगाही की कोशिश करने और उन्हें जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए तुगलक रोड थाने में एफआइआर दर्ज कराई है।

दिल्ली पुलिस ने नहीं किया संपर्क

पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार ने बताया कि मामले को लेकर दिल्ली पुलिस ने गुड़गांव पुलिस से संपर्क नहीं किया है। वैसे गुड़गांव पुलिस हर स्तर पर सहयोग करने को तैयार है। प्रदीप चौहान मेफील्ड गार्डन के डी ब्लाक के एक फ्लैट में रहता है पर बुधवार से उसे किसी ने नहीं देखा। उसके दोनों मोबाइल नंबर भी बंद चल रहे हैं। बता दें कि केंद्रीय मंत्री वीके सिंह की ससुराल गुड़गांव के सेक्टर 31 में है।

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप