नई दिल्ली (जेएनएन)। देश की राजधानी दिल्ली की कोर्ट में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। कोर्ट में एक शख्स ने जज से साहब से गुहार लगाई है कि उसकी पत्नी गैरमर्दों से अश्लील चैटिंग करती है। ऐसे में मुझे शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है, इसलिए मुझे तलाक चाहिए। इस मामले पर कोर्ट भी हैरान है, हालांकि, कोर्ट ने शख्स की पत्नी को नोटिस जारी कर इस पर जवाब मांगा है।

जानकारी के मुताबिक, नई-नई शादी हुई थी, लेकिन पत्नी दूरी बनाने लगी तो पति तलाक के लिए अदालत पहुंच गया। उसने वाट्सएप पर दूसरों से की गई अश्लील चैटिंग को तलाक का आधार बनाया। पति ने अदालत में आरोप लगाते हुए कहा- ‘पत्नी के पास मेरे लिए वक्त नहीं है। वह देर रात तक वाट्सएप पर दूसरे लोगों से चैटिंग करती है। अश्लील मैसेज, तस्वीरें और वीडियो भेजती है। विरोध करने पर वह किसी झूठे आरोप में न फंसा दे, इसलिए पत्नी के वाट्सएप से सुबूत जुटाएं। जज साहब! ऐसी जिंदगी जीने से अच्छा है कि मुझे तलाक दिला दीजिए’।

एक साल पहले ही हुई थी शादी

याचिकाकर्त के अधिवक्ता मनीष भदौरिया ने बताया कि भागीरथी विहार में रहने वाले युवक की 7 मई 2017 को शाहदरा निवासी युवती से शादी हुई थी, लेकिन दोनों के बीच संबंध ठीक नहीं रहे। आरोप है कि महिला पति से शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहती है और ठीक तरह से बात भी नहीं करती है। रातभर वाट्सएप पर दोस्तों से चैटिंग करती है।

पति की अर्जी पर पत्नी को कोर्ट ने भेजा नोटिस

युवक की अर्जी पर सुनवाई करते हुए न्यायाधीश एसके सरपाल ने उसकी पत्नी को नोटिस भेजा और महिला ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया। बहरहाल, अदालत ने दंपती को शादी बचाने के लिए आखिरी मौका देते हुए इस मामले को मध्यस्थता केंद्र भेज दिया है। अब 20 अगस्त को मामले की अगली सुनवाई होगी।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस