Move to Jagran APP

मुनक नहर के बैराज के टूटने से दिल्ली के इन इलाकों में नहीं आएगा पानी, आतिशी ने कहा- घटना की होगी जांच

दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने कहा कि कल रात 12 बजे से 2 बजे के बीच मुनक नहर के तटबंध में दरार आ गई जिससे पानी आस-पास के इलाकों में घुस गया। इसका रखरखाव हरियाणा सिंचाई विभाग करता है उनकी टीम यहां है। डीजेबी की टीम यहां है। अगले कुछ घंटों में मरम्मत का काम पूरा हो जाएगा। कल सुबह से नहर में पानी आना शुरू हो जाएगा।

By Jagran News Edited By: Sonu Suman Thu, 11 Jul 2024 05:45 PM (IST)
मुनक नहर के बैराज के टूटने से दिल्ली के इन इलाकों में नहीं आएगा पानी, आतिशी ने कहा- घटना की होगी जांच
दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने मुनक नहर के बैराज टूटने के मौके का जायजा लिया।

जागरण संवाददाता, दिल्ली। मुनक नहर के बैराज के टूटने के बाद दिल्ली की मंत्री आतिशी ने बवाना में मौके का दौरा किया। उन्होंने कहा कि 3-4 वाटर ट्रीटमेंट प्लांट प्रभावित हैं। इससे उत्पादन कम हो गया है। द्वारका इलाके में कल शाम तक सामान्य पानी की आपूर्ति शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि यह जानने के लिए जांच की जरूरत है कि कहीं कोई गड़बड़ी तो नहीं हुई।

उन्होंने कहा कि कल रात 12 बजे से 2 बजे के बीच तटबंध में दरार आ गई, जिससे पानी आस-पास के इलाकों में घुस गया। इस नहर का रखरखाव हरियाणा सिंचाई विभाग करता है, उनकी टीम यहां है। डीजेबी की टीम यहां है। मरम्मत का काम चल रहा है। अगले कुछ घंटों में मरम्मत का काम पूरा हो जाएगा। कल सुबह से नहर में पानी आना शुरू हो जाएगा।

मरम्मत का काम आज शाम तक होगा पूरा

उन्होंने कहा कि मरम्मत के दौरान नहर का पानी रोके जाने के कारण हैदरपुर, द्वारका, नांगलोई और बवाना वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के उत्पादन पर असर पड़ा है और कई इलाकों में सप्लाई प्रभावित हुई है। इसके मरम्मत का काम जोरों-शोरों से हो रहा है। उम्मीद है कि इसे जल्द पूरा कर लिया जाएगा। द्वारका को छोड़कर तीनों वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में आज शाम से पानी की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

द्वारका में कल शाम तक होगी पानी की आपूर्ति

नहर के पानी को दूसरे उप-शाखा में डाइवर्ट करने से आज शाम तक 3 WTPs में उत्पादन सामान्य हो जाएगा, लेकिन द्वारका WTP में सीएलसी से ही पानी आता है। ऐसे में जबतक सीएलसी में पानी नहीं छोड़ा जाता है, तबतक द्वारका WTP प्रभावित रहेगा। जल बोर्ड प्रयासरत है कि कल शाम तक द्वारका के पानी  सप्लाई को सामान्य हो जाए। नहर के मरम्मत के बाद इसके तटबंध के टूटने को लेकर एक विस्तृत जांच भी की जाएगी।

ये भी पढ़ें- मुनक नहर के बैराज के टूटने पर एलजी वीके सक्सेना एक्टिव, मुख्य सचिव को चिट्ठी लिखकर दिए ये निर्देश