Move to Jagran APP

दिल्ली-गुरुग्राम नहर में डूबकर दो चचेरे भाइयों की मौत, एक शव बरामद; दूसरे की तलाश जारी

दिल्ली के बदरपुर इलाके में बाइक सवार दो युवक नहर में गिरने के बाद बह गए। जिनकी तलाश की जा रही है। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। डूबे लोगों में राहुल और हेमेंदर हैं जो बदरपुर के ही रहने वाले हैं।

By Jagran NewsEdited By: GeetarjunPublished: Mon, 20 Mar 2023 05:05 PM (IST)Updated: Mon, 20 Mar 2023 09:21 PM (IST)
बदरपुर में दिल्ली-गुरुग्राम नहर में बहे दो युवक, गोताखोरों ने तलाश की शुरू; बाइक हुई बरामद

नई दिल्ली [रजनीश कुमार पांडेय]। दिल्ली गुरुग्राम नहर में गिरकर डूबने से रविवार रात बाइकसवार दो चचेरे भाइयों की मौत हो गई। दोनों मृतकों की पहचान मोलड़बंद एक्सटेंशन के हेमेंद्र(32) और राहुल(30) के रूप में हुई है। दोनों रविवार रात को फरीदाबाद सेक्टर-33 स्थित एक रिश्तेदार के घर से लौट रहे थे।

loksabha election banner

राहुल और हेमेंद्र (फाइल फोटो)

सोमवार को दिन भर चले सर्च आपरेशन में आपदा प्रबंधन विभाग की नावों और गोताखोरों ने मृतक राहुल के शव को बरामद कर लिया। फिलहाल हेमेंद्र के शव की तलाश की जा रही है। खबर लिखे जाने तक हेमेंद्र का शव बरामद नहीं किया जा सका था।

पुलिस उपायुक्त राजेश देव ने बताया कि रविवार रात बदरपुर थाना पुलिस को दो लोगों के दिल्ली गुरुग्राम नहर में डूबने की सूचना पीसीआर काल के माध्यम से मिली। कालर ने पुलिस को बताया कि दो लड़के नहर में गिरकर डूब रहे हैं। मौके पर पहुंची पुलिस को नहर के किनारे पर मोलड़बंद विस्तार स्थित अटल पार्क के सामने दुर्घटनाग्रस्त स्थिति में एक बाइक मिली।

पूछताछ के दौरान पता चला कि इसी बाइक से मोलड़बंद एफ ब्लाक की ओर से आ रहे बाइकसवार दो लोग अटल पार्क के सामने नहर में गिर गए। सड़क से गुजर रहे लोगों ने उनकी आवाज सुनी तो बचाने की कोशिश की लेकिन वे असफल रहे।

मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने क्राइम टीम, फायर ब्रिगेड, आपदा प्रबंधन, एंबुलेंस और गोताखोरों को मामले की सूचना देकर बुलाया। रविवार रात को शुरु हुआ सर्च आपरेशन सोमवार सुबह तक और फिर पूरे दिन भर चलता रहा। सोमवार शाम को गोताखोरों ने राहुल का शव बरामद कर लिया। फिलहाल हेमेंद्र के शव की तलाश की जा रही है।

मृतक हेमेंद्र के पिता ने बताया कि हेमेंद्र और राहुल चचेरे भाई हैं। रविवार को छुट्टी के दिन दोनों फरीदाबाद सेक्टर 33 स्थित एक रिश्तेदार के घर गए हुए थे। रात को दोनों बाइक से लौट रहे थे कि एक रोड ब्रेकर के पास उनकी गाड़ी डगमगाई और उनका गाड़ी पर से नियंत्रण खो गया। इसके चलते वे बाइक सहित नहर में गिर गए और बचाने के लिए गुहार लगाने लगे। इसके बाद मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को मामले की सूचना दी।

सड़क व नहर के बीच में नहीं लगी है कोई जाली अथवा डिवाइडर, लाइटें भी नहीं लगीं

नहर के किनारे की करीब पांच किमी लंबी सड़क (जिस पर हादसा हुआ है) और नहर के बीच में कोई जाली अथवा डिवाइडर नहीं लगा हुआ है। प्रकाश की भी कोई व्यवस्था नहीं है। स्थानीय लोगों का कहना है कि प्रकाश इत्यादि की समुचित व्यवस्था न होने के चलते अक्सर यहां घटनाएं होती रहती हैं। लेकिन जिम्मेदार लोगों ने आंखें मूंद रखी हैं और इस पर कोई ध्यान नहीं देते हैं।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.