नई दिल्ली, जेएनएन। अनाज मंडी हादसे में घायल पीड़ितों में से तीन की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। इसमें एक 20 वर्षीय युवक लोकनायक अस्पताल के आइसीयू में भर्ती है। इसके अलावा एक मरीज का मेडिसिन विभाग की इमरजेंसी व करीब 55 फीसद झुलसे एक व्यक्ति का बर्न विभाग में इलाज चल रहा है। वहीं, सोमवार को दमकल विभाग में तैनात अधिकारी राजेश शुक्ला व फायरमैन मुनी राम मीणा समेत दो अन्य लोगों को भी छुट्टी दे दी गई है। इसमें एक मरीज हड्डी विभाग में भर्ती था। अन्य 12 मरीजों का इलाज चल रहा है।

घायलों में एक 11 वर्षीय बच्चा भी

अस्पताल के निदेशक डॉ. किशोर सिंह ने बताया कि हादसे के बाद लोकनायक में कुल 16 मरीजों को भर्ती कराया गया था। इसमें से तीन लोगों की हालत शुरू से ही गंभीर बनी हुई है। अभी 10 पीड़ितों का बर्न विभाग में इलाज चल रहा है। इन घायलों में एक 11 वर्षीय बच्चा भी है, जिसका इलाज पिडियाट्रिक्स विभाग में चल रहा है। वहीं, एक अन्य मरीज मेडिसिन विभाग में भर्ती है।

डाक्टरों का कहना है कि जो चार लोग मामूली रूप से जख्मी थे। उन्हें इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है। वहीं, दूसरी ओर लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन दो मरीजों में से एक की छुट्टी हो गई है व दूसरे का इलाज चल रहा है।

बता दें कि अग्निकांड के बाद फैक्ट्री में काम करने वाले मरीजों को लोकनायक व लेडी हार्डिग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसमें कई मरीज ऐसे थे, जो धुएं के कारण बेहोश हुए थे तो कुछ आग से झुलस गए थे। जान बचाने के लिए भागने के दौरान कुछ लोग मामूली रूप से भी घायल हुए थे।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस