नई दिल्ली, जेएनएन। Sunanda Pushkar Death case : सुनंदा पुष्कर आत्महत्या मामले में आरोपित कांंग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Senior congress leader) की ओर से पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत से कुछ समय पहले ट्विटर पर लिखे संदेशों को पेश करने की मांग की गई। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट के विशेष न्यायाधीश अजय कुमार ने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) से इस याचिका पर जवाब मांगा है। इस मामले की अगली सुनवाई 15 नवंबर को होगी।

बता दें कि सुनवाई के दौरान कांग्रेस सांसद शशि थरूर की ओर से वकील विकास पाहवा ने आरोपों पर जिरह करते हुए दलील दी कि दिल्ली पुलिस सुनंदा पुष्कर मौत मामले में मनोवैज्ञानिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट की बात पर भरोसा कर रही है, लेकिन जो उन्होंने खुद ट्विटर व बीबीएम पर लिखा उस पर भरोसा नहीं कर रही हैं। मौत से कुछ समय पहले के उनके इन संदेशों में काफी सकारात्मक बाते हैं। विकास पाहवा ने कहा कि यह रिपोर्ट डॉक्टरों ने सुनंदा के परिवार, उनके दोस्तों, जानकारों व घरेलू सहायकों से बातचीत के आधार पर तैयार की थी, लेकिन पुलिस ने उनके संदेशों को कोर्ट में पेश नहीं किया।

गौरतलब है कि गौरतलब है कि पति शशि थरूर पर पत्नी सुनंदा पुष्कर को आत्महत्या करने के लिए उकसाने और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का भी आरोप है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में शशि थरूर को आरोपी बनाते हुए कोर्ट में 3000 पन्नों की लंबी चार्जशीट दाखिल की है। 

यहां पर बता दें कि पांच साल पहले 17 जनवरी, 2014 को देश की राजधानी दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में सुनंदा पुष्कर की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। 

वहीं, मौत से ठीक एक दिन पहले ही शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार से ट्वीटर पर जमकर बहस हुई थी। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस