गुरुग्राम [प्रियंका दुबे मेहता]। स्मार्ट स्पीकर का नाम सुनते ही लगता है मानो एक बेहतरीन म्यूजिक सिस्टम के स्पीकर्स हैं जो कि बेहतर तरीके से म्यूजिक को कंट्रोल कर सकते हैं। लेकिन ये इससे भी कहीं आगे की टेक्नोलॉजी है। दो दिन पहले लॉन्च हुए गूगल होम लोगों को स्मार्ट स्पीकर्स के बारे में और भी ऊंचाई पर ले जाएगा। अब तक आ रहे गूगल, एमेजॉन एवं एलेक्सा सहित कई कंपनियों के स्मार्ट स्पीकर की मांग भी अब बढ़ गई है। विशेषज्ञों के मुताबिक ये मात्र स्पीकर नहीं हैं, बल्कि इन्हें सलाहकार, घरेलू सहायक या साथी कहा जाए तो गलत नहीं होगा।

भारतीय लहजे को भी पहचान सकते हैं ये स्पीकर

अब तक आने वाले स्मार्ट स्पीकर्स भारतीय एक्सेंट या लहजे को पहचान नहीं पाते थे, जिससे किसी भी तरह का प्रश्न पूछने और कमांड देने पर वह प्रतिक्रिया नहीं देते थे। लेकिन अब नए आने वाले स्मार्ट स्पीकर्स ज्यादा इंटरैक्टिव हो गए हैं, क्योंकि इन्हें खासतौर पर भारतीय लहजे को पहचानने के लिए डिजाइन किया है। इन स्पीकर्स को वॉयस कमांड देकर न सिर्फ सर्च किया जा सकता है बल्कि प्रश्नों के उत्तर, होम ऑटोमेशन कमांड, म्यूजिक, लोगों से बात, मैसेज और ईमेल तक किया जा सकता है। इसके साथ ही कुछ कंपनियों के स्मार्ट स्पीकर हिंदी भाषा को भी समझ सकेंगे और उसी भाषा में जवाब दे सकेंगे।

कंप्यूटर से लेकर रसोई तक में हैं मददगार

जो लोग कंप्यूटर का ज्यादा ज्ञान नहीं रखते, उन्हें कंप्यूटर पर काम करवाने में यह स्पीकर मदद करते हैं। जो भी फाइल खोलनी हो, जो कुछ भी लिखना हो या फिर मोबाइल पर कुछ जानकारी लेनी हो। यह स्पीकर पलक झपकने से पहले ही तैयार कर देते हैं। इसके अलावा घरों में लगे किचन, माइक्रोवेब, एसी, बाथ गीजर, लाइट, पंखे और भोजन बनाने के उपकरणों की कमांड देकर उनसे काम करवा सकते हैं।

स्मार्ट स्पीकर्स ने टेक्नोलॉजी को नया आयाम दिया है। अब हर कोई बिना जानकारी के केवल बोल कर कंप्यूटर से लेकर मोबाइल और घरों के काम कर सकते हैं। जीरो एफर्ट के साथ सभी काम पूरे हो जाते हैं। ऐसे में समय की भी बचत होती है और मोबाइल पर खर्च होने वाला स्क्रीन टाइम भी बचता है जो कि आजकल लोगों की बड़ी समस्या के रूप में सामने आ रहा है।

मुनीष धीमान, टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट

जेस्चर रिसर्च स्मार्ट स्पीकर्स की सबसे अच्छी बात है कि यह टू वे इंटरैक्ट कर सकते हैं। आपकी बात का जवाब दे सकते हैं और आपकी कमांड को आवाज में बता सकते हैं। साथ ही भविष्य में इसका हिंदी वर्जन भी लॉन्च होने जा रहा है। जिससे चीजें और आसान हो जाएंगी।

शारिक, टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट, गुरुग्राम 

यह भी पढ़ें: दो दशक बाद फिर से फैशन में लौटे मोती, बच्चों से लेकर बड़ों तक के लिए है वैरायटी

Posted By: Amit Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप