नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों द्वारा त्योहारों के मददेनजर देश में आतंकी हमले की धमकी दिए जाने व आइबी के अलर्ट के बाद राजधानी की सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है। आतंकी संगठनों ने जम्मू कश्मीर में एलान किया है कि जिन राज्यों से अधिकतर लोग जम्मू कश्मीर आ रहे हैं उन राज्यों में वे आतंकी हमले तेज करेंगे। धमकी के मददेनजर विगत सोमवार को गृहमंत्री अमित शाह ने गृहमंत्रालय में दिल्ली समेत सभी राज्यों के पुलिस प्रमुखों की बैठक ली और उन्हें आंतरिक सुरक्षा कड़ी करने के निर्देश दिए। जिसके बाद दिल्ली की सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है।

सूत्रों के मुताबिक आइबी ने आतंकी हमले की आशंका के मददेनजर दिल्ली पुलिस को अलर्ट जारी किया है। चूंकि दीवाली के मौके पर दिल्ली में आतंकी हमले हो चुके हैं इसलिए दिल्ली पुलिस को इस बार ज्यादा सर्तक रहने को कहा गया है। स्पेशल सेल की सभी यूनिटों को खासतौर पर अलर्ट कर दिया गया है। पीसीआर की मोबाइल पेट्रोलिंग व्हीकल को लगातार गश्त करने रहने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही पीसीआर की वैन जो निर्धारित बेस पर खड़ी रहती है उसे पूरी तरह अलर्ट रहने को कहा गया है। नई दिल्ली, दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम, मध्य व उत्तरी आदि जिले में पीसीआर को काल मिलने पर तीन मिनट व द्वारका, रोहिणी आदि बड़े जिले में 5 से 7 मिनट के अंदर काल पर पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं।

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि चौकसी बरतने में पीसीआर की अहम भूमिका रहती है। इसलिए इस यूनिट को सबसे अधिक अलर्ट रहने की जरूरत है। इसके अलावा सभी संवेदनशील व अति संवेदनशील भवनों के पास पिकेट लगाकर सघन चेकिंग शुरू कर दी गई है ताकि संभावित आतंकी हमले की कोशिश को टाला जा सके। उक्त भवनों के आसपास पीसीआर की पराक्रम व प्रखर वैन की भी तैनाती कर दी गई है। उक्त वैन में तैनात पुलिसकर्मी अत्याधुनिक हथियारों से लैस है, जिन्हें परस किसी भी तरह के हालात से निपटने की क्षमता है।

सभी थाना प्रमुखों से कहा गया है कि वे अपने-अपने इलाके में गश्त बढाए, पिकेट लगाकर चेकिंग कराएं। सभी तरह के सत्यापन पर पैनी नजर रखें। होटलों व गेस्ट हाउसों पर प्रतिदिन नजर रखें कि वहां ठहरने वाले लोग कौन हैं। साइबर कैफे पर नजर रखने को कहा गया है। साथ ही पार्किंग स्थलों की भी जांच करने को कहा गया है कि वहां कोई लावारिस गाड़ी तो पार्क नहीं है।

सभी आला अधिकारियों से भी कहा गया है कि वे अपने-अपने इलाके में गश्त करते रहें। सभी प्रमुख भीड़भाड़ वाले बाजारों में अत्यधिक चौकसी बरतने को कहा गया है वहां चे¨कग की व्यवस्था बेहद दुरुस्त रखने की हिदायत दी गई है। लाउडस्पीकरों से उदघोषणा कर लोगों को जागरूक करने को कहा गया है ताकि कोई कहीं भी लावारिस वस्तुओं को न छुएं। किसी भी संदिग्ध पर नजर पड़ने पर पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112 पर काल कर तुरंत सूचना दें। सभी जिसे के डीसीपी से कहा गया है वे अपने-अपने जिले में अधिक से अधिक पुलिसकर्मियों को सड़कों पर मुस्तैद रखें।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari