नई दिल्ली [जेएनएन]। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का प्रस्तावित इंद्रप्रस्थ स्टेट स्थित मुख्यालय का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृति में रखा जाएगा। दक्षिणी दिल्ली की सदन की बैठक में महापौर नरेंद्र चावला ने इस प्रस्ताव को रखा। जिसका समर्थन सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने किया, जिसके चलते प्रस्ताव को पारित कर दिया गया।

राजनीति के एक युग का अंत हो गया
महापौर नरेंद्र चावला ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी एक सर्वमान्य नेता थे। भाजपा के ही नहीं दूसरे दलों के नेता भी उनका सम्मान करते थे। उनके निधन के बाद एक तरह से राजनीति के एक युग का अंत हो गया है, इसलिए इंद्रप्रस्थ स्टेट में प्रस्तावित निगम के मुख्यालय का नाम उनकी स्मृति में रखा जाएगा। प्रस्ताव से पूर्व वाजपेयी के साथ सोमनाथ चटर्जी, एम करूणानिधि, बलरामजी दास टंडन, साहब सिंह चौहान, आरके धवन, गुरुदास कामत, कुलदीप नैय्यर, अजित वाडेकर और विमल खुराना के निधन पर भी शोक व्यक्त किया गया।

30 मंजिला होगा मुख्यालय
दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का मुख्यालय फिलहाल अभी उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मुख्यालय श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविक सेंटर में चलता है। दक्षिणी निगम को इंद्रप्रस्थ स्टेट में अपना मुख्यालय बनाने के लिए जगह मिल गई है। निर्माण कार्य शुरू करने के लिए प्रक्रिया चल रही है। निगम अधिकारियों के मुताबिक निगम का यह मुख्यालय 30 मंजिला होगा।

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए कर्मचारी दान करेंगे एक दिन की सैलरी
केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए दक्षिणी दिल्ली नगर निगम भी मदद करेगा। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के 43 हजार कर्मचारियों के मूल वेतन में से एक दिन का वेतन मदद के लिए केरल भेजा जाएगा। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की सदन की बैठक में निगमायुक्त पुनीत कुमार गोयल ने इससे संबंधित प्रस्ताव को सदन के समक्ष रखा था। इसको सदन ने सर्वसम्मति से पारित कर दिया। निगम के मुताबिक 43 हजार कर्मचारियों के एक दिन के मूल वेतन के योगदान से दो करोड़ 60 लाख रुपये की राशि केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में भेजी जाएगी। डॉ. गोयल के प्रस्ताव का समर्थन करते हुए नेता सदन कमलजीत सहरावत ने प्रस्ताव की सरहाना की। विपक्ष के पार्षदों ने भी इसकी सरहाना की।