नई दिल्ली, जेएनएन। देश की राजधानी दिल्ली के वीवीआइपी इलाके सिविल लाइन्स इलाके में उप राज्यपाल अनिल बैजल के आवास से चंद कदमों की दूरी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की भतीजी दमयंती से हुई पर्स झपटमारी में अहम खुलासा हुआ है। दरअसल, पीएम मोदी के भाई प्रह्लाल मोदी की बेटी दमयंती ने अपने साथ हुई पर्स झपटमारी के मामले की FIR दर्ज करवाने के दौरान अपना परिचय सिर्फ गुजरात निवासी के तौर पर दिया था। बावजूद इसके पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए न केवल मामला दर्ज किया, बल्कि आरोपितों को भी पकड़ने में जुट गई है।

पीएम मोदी की भतीजी दमयंती ने कहा कि अगर पूरे देश में झपटमारी की वारदात बढ़ गई है तो महिलाओं को सतर्क हो जाना चाहिए और पुलिस समेत संबंधित एजेंसियों को कुछ अलग सोचना होगा। उन्होंने कहा कि वारदात के बाद एफआईआर दर्ज करने के दौरान दिल्ली पुलिस ने काफी सहयोग किया तब तो पुलिस को यह पता भी नहीं था कि मै पीएम मोदी कि भतीजी हूं। बाद में भी दिल्ली पुलिस ने काफी सहयोग किया।

दमयंती के मुताबिक, 3 रोज पहले अपने पति विकास मोदी और अपनी दो बेटियों के साथ घूमने के लिए निकली थीं। इस कड़ी में वह पहले परिवार के साथ अमृतसर (पंजाब) गईं और फिर दिल्ली शनिवार सुबह पहुंचीं थी। दमयंती और उनके पति न तो बदमाशों के चेहरे देख पाए और न ही स्कूटी का नंबर।

गौरतलब है कि दिल्ली के वीवीआइपी इलाके सिविल लाइन्स इलाके में शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती बेन मोदी के साथ स्कूटर सवार बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया था। यह वारदात तब हुई दमयंती अपने पति के साथ पुरानी दिल्ली से ऑटो के जरिये सिविल लाइन्स स्थित गुजराती समाज भवन के सामने पहुंची थीं। ऑटो से उतरने के दौरान ही स्कूटर सवार दो बदमाश आए और दमयंती का पर्स लेकर फरार हो गए।

यहां पर बता दें कि सीएम केजरीवाल और LG आवास से चंद कदमों की दूरी यह पूरी वारदात हुई। ऐसे में बेशक दिल्ली पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था भी सवालों के घेरे में आ गई है।
 

Odd-Even: महिलाओं को मिलेगी छूट, प्राइवेट सीएनजी कारों को AAP सरकार ने दिया झटका

Delhi Metro: 30 लाख यात्रियों के लिए खुशखबरी, ट्रेनों में बढ़ेंगे कोच; सफर होगा और आसान

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप