नई दिल्ली, एएनआइ। Rakesh Tikait News: भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सिंघु बार्डर पर हत्या मामले में सरकार पर ही हमला बोल दिया है। उन्होंने हत्या का दोष सरकार पर भी मढ़ते हुए कहा है कि इस हत्या का किसान आंदोलन से कोेेई लेना देना नहीं है। हम निहंगों से बात करेंगे उनकी यहां पर कोई जरूरत नहीं। सरकार पर हमलावर होते हुए उन्होंने यह भी कहा कि सरकार माहौल खराब करना चाहती है। यह एक सरकारी षड़यंत्र के तहत हुआ है।

सिंघु बॉर्डर पर क्यों हुई है हत्या

सिंघु बॉर्डर पर किसान आंदोलन के प्रदर्शन वाली जगह के पास ही एक पंजाब के शख्स की हत्या हुई है। यह हत्या शनिवार को हुई थी जिसके बाद से यह मामला किसान आंदोलन से जोड़ कर देखा जा रहा था जिस पर किसान आंदोलन के नेता लगातार सफाई दे रही है। बताया जा रहा है कि यह हत्या गुरु ग्रंथ की बेअदबी मामले में की गई है जिसमें तीन निहंगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस की पूछताछ चल रही है। इसी मामले में यह किसान आंदोलन के नेता जनता के निशाने पर थे कि आखिर कैसे इतने निर्मम तरीके से हत्या हुई जिसके बाद सोशल मीडिया में किसान आंदोलन निशाने पर रहा।

किन-किन की हो चुकी है गिरफ्तारी

बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन की जगह पर 34 वर्षीय लखबीर सिंह के हाथ-पैर काटकर बर्बरतापूर्ण हत्या करने के मामले में आरोपित नारायण सिंह श्री अकाल तख्त साहिब को पुलिस ने अमृतसर के जंडियाला गुरु पकड़ा है। इससे पहले वहीं, सोनीपत के कुंडली थाने में दो निहंगों भगवंत सिंह और गोविंद प्रीत ने आत्मसमर्पण कर दिया था।

Edited By: Prateek Kumar