नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली एनसीआर को जहरीली हवा से निजात तो बारिश की बूंदें भी नहीं दिला सकीं। उम्मीद के विपरीत, एयर इंडेक्स बेहद खराब से खतरनाक श्रेणी में पहुंच गया। विडंबना यह कि तमाम प्रतिबंध पहले ही हटा लिए गए थे। ऐसे में दिन भर दिल्लीवासी सांस लेने में परेशानी का अनुभव करते रहे। सोमवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 399 दर्ज किया गया था। बताया जा रहा था कि मंगलवार को होने वाली हल्की बारिश से धूल बैठ जाएगी एवं एयर इंडेक्स में भी और कमी आएगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। हल्की बारिश तो हुई, लेकिन एयर इंडेक्स घटने की बजाए बढ़ता गया।

सुबह से शाम तक बढ़ता ही रहा प्रदूषण

सुबह आठ बजे के करीब दिल्ली का एयर इंडेक्स 401 था जो दोपहर एक बजे के लगभग 403 जा पहुंचा। शाम चार बजे यह 409 पहुंच गया।  जानकारों की मानें तो बारिश बहुत ही हल्की हुई थी और वह भी कहीं कहीं। जबकि दिन भर बादल छाए रहने से हवा में नमी ज्यादा रही। धूल कण भी नहीं बैठ पाए। सबसे बड़ी बात यह कि धूप न निकलने से मिक्सिंग हाइट एक हजार मीटर से नीचे रह गई। लिहाजा, प्रदूषक तत्व भी नीचे ही बने रहे। हवा की गति स्थिर हो गई। कुल मिलाकर नतीजा यह कि प्रदूषण में इजाफा होता गया।

पूरे एनसीआर में स्‍थ‍ित‍ि खतरनाक

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के एयर बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को दिल्ली ही नहीं, एनसीआर के भी अधिकांश शहरों में एयर इंडेक्स खतरनाक श्रेणी का रहा। फरीदाबाद और गाजियाबाद में यह 409, ग्रेटर नोएडा में 411, नोएडा में 426, गुरुग्राम में 313 और भिवाड़ी में 319 दर्ज किया गया। इसी तरह दिल्ली में पीएम 2.5 जहां 269 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहा वहीं पीएम 10 399 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया।

हल्‍की बारिश के आसार हैं

मौसम विभाग और सफर इंडिया के पूर्वानुमान पर चलें तो बुधवार को भी कमोबेश ऐसे ही हालात बने रहेंगे। दिन भर बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश भी होने के आसार हैं। बादल छाए रहने से जहां धूप नहीं निकलेगी और मिक्सिंग हाइट कम रहेगी वहीं हवा की गति भी रहने के आसार हैं। उधर बुधवार को फिर सीपीसीबी की टास्क फोर्स अथवा ईपीसीए की समीक्षा बैठक हो सकती है। इन बैठकों में ही यह निर्णय लिया जाएगा कि आगे क्या प्रतिबंध लगाया जाए और क्या नहीं।

मंगलवार को दिल्ली के विभिन्न इलाकों का एयर इंडेक्स

  • इलाका एयर इंडेक्स
  • आनंद विहार 459
  • अशोक विहार 457
  • आया नगर 346
  • बवाना 458
  • बुराड़ी क्रॉसिंग 446
  • मथुरा रोड 407
  • डीटीयू 429
  • कर्णी सिंह शूटिंग रेंज 348
  • द्वारका सेक्टर 8 403
  • आइजीआइ एयरपोर्ट 362
  • इहबास 374
  • आइटीओ 412
  • जहांगीर पुरी 466
  • नेहरू स्टेडियम 399
  • लोधी रोड 381
  • नेशनल स्टेडियम 392
  • मंदिर मार्ग 399
  • मुंडका 451
  • एनएसआइटी द्वारका 350
  • विवेक विहार 433
  • सीरीफोर्ट 384
  • पटपडग़ंज 412
  • नार्थ कैंपस 415
  • नरेला 431
  • सोनिया विहार 459
  • शादीपुर 364
  • रोहिणी 451
  • आर के पुरम 415
  • पंजाबी बाग 427
  • ओखला फेज टू 408
  • नेहरू नगर 433
  • पूसा 387
  • वजीर पुर 472
  • नजफगढ़ 391

ईपीसीए का पक्ष

उम्मीद तो यही थी कि बारिश की बूंदों से ज्यादा कुछ नहीं तो छिड़काव सरीखा फायदा तो मिल ही जाएगा। लेकिन, शायद धूल ज्यादा रही और हवा की गति स्थिर होने एवं नमी भी बनी होने से प्रदूषण उड़ नहीं पाया। इसीलिए एयर इंडेक्स बढ़ गया। बुधवार को भी हल्की बारिश की संभावना है।  देखते हैं कि इस बार कुछ फायदा होता है या नहीं।

डॉ भूरेलाल, अध्यक्ष, ईपीसीए।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस