नई दिल्ली,राज्य ब्यूरो। दिल्ली-एनसीआर में लोगों को जहरीली हवा से राहत नहीं मिल रही है और वायु प्रदूषण की समस्या बरकरार है। प्रदूषण के कारण लोगों का सांस लेना मुश्किल हो रहा है। इससे गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों को सबसे ज्यादा दिक्कत हो रही है। शनिवार को दिल्ली व फरीदाबाद में हवा की गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में बनी रही। वहीं, एनसीआर के अन्य शहरों में हवा बेहद खराब श्रेणी में रही।

एक दिसंबर से राहत की उम्मीद: सफर इंडिया के अनुसार, दिल्ली में हवा की गति बहुत कम रही। इस वजह से प्रदूषण के स्तर में खास सुधार नहीं हो पाया। 29 व 30 नवंबर को हवा की गति मध्यम स्तर की होगी। एक दिसंबर से प्रदूषण के स्तर में थोड़ी कमी आने की संभावना है, लेकिन हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में रहेगी। उधर, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार एनसीआर में सबसे अधिक एयर इंडेक्स फरीदाबाद में 416 दर्ज किया गया। 

4 साल में सबसे जहरीला नवंबर

दीवाली के बाद से बढ़ते प्रदूषण के कारण नवंबर का महीना सबसे जहरीली स्थिति में माना जा रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते चार साल में नवंबर का महीना सबसे ज्यादा प्रदूषित श्रेणी में दर्ज किया गया है। हालांकि नवंबर के महीने में अभी दो दिन बाकी है, लेकिन वर्तमान स्थिति को देखते हुए लग रहा है कि लोगों को राहत मिलना मुश्किल है। हालांकि दिसंबर में प्रदूषण की स्थिति में सुधार की संभावना जताई जा रही है। सीपीसीबी के द्वारा जारी आकड़ों के मुताबिक शनिवार को औसत AQI फिर से गंभीर स्तर (402) पर पहुंच गया।

Edited By: Pradeep Chauhan