नई दिल्‍ली, जागरण संवाददाता। जैसे-जैसे फांसी की तारीख नजदीक आ रही है वैसे-वैसे निर्भया के चारों दोषियों की बेचैनी बढ़ती जा रही है। इस बार फांसी से बचने के लिए निर्भया के दो दोषियों ने एक बार फिर से कानूनी दांव पेंच का सहारा लिया है। पहले निर्भया के दोषी पवन गुप्‍ता ने फांसी से बचने के लिए फिर एक नई चाल चली है। पवन ने सुप्रीम कोर्ट में फिर से क्‍यूरेटिव याचिका दाखिल की है। वहीं दोषी अक्षय ने एक बार फिर जेल प्रशासन को दया याचिका दी है। जिसे राष्‍ट्रपति के पास भेजने की गुजारिश की गई है। इसे गृहमंत्रालय के पास दिल्‍ली सरकार के द्वारा भेजा जाएगा। 

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले भी सुप्रीम कोर्ट में एक क्‍यूरेटिव याचिका पवन की खारिज हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट में यह पवन की दूसरी याचिका दायर की गई है। वहीं अक्षय ने भी दूसरी दूसरी दया याचिका दायर की है। इससे पहले उसकी एक दया याचिका सरकार के द्वारा खारिज की जा चुकी है।  डेथ वारंट के हिसाब से निर्भया के दोषियों को 20 मार्च को सुबह साढ़े पांच बजे फांसी पर लटकाया जाना है।

फांसी घर का जायजा लिया

इधर, पवन जल्‍लाद तिहाड़ मंगलवार को पहुंच गया है। जेल सूत्रों के अनुसार, जल्लाद को अधिकारियों ने पूरी कार्य योजना बताई। जिस पर जल्लाद ने अधिकारियों को आश्वस्त किया कि वह अपने कार्य को लेकर पूरी तरह सजग है। कहीं कोई दिक्कत नहीं होगी। इसके बाद जल्लाद ने जेल संख्या तीन परिसर में जाने की इच्छा जताई ताकि वह फांसी घर के हालात का जायजा ले सके। उसके अनुरोध पर अधिकारी उसे लेकर जेल संख्या तीन गए। इस दौरान उसने फंदे की रस्सी के बारे में भी अधिकारियों से बात की।

हाई सिक्‍योरिटी जेल में बंद हैं निर्भया के दोषी

दोषियों के स्वास्थ्य को लेकर जेल प्रशासन पूरी तरह सजग जेल संख्या तीन के हाई सिक्योरिटी सेल में बंद निर्भया के चारों दोषियों के स्वास्थ्य को लेकर जेल प्रशासन पूरी तरह सजग है। रोजाना दो बार चिकित्सकों का एक दल सभी के स्वास्थ्य की जांच कर रहा है। दोषियों के स्वास्थ्य जांच की रिपोर्ट को रजिस्टर में दर्ज भी किया जा रहा है। ल के आसपास सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। कोरोना वायरस के मद्देनजर सेल की निगरानी में जो भी सुरक्षाकर्मी हैं, उन्हें सैनिटाइजर दिए गए हैं ताकि वे समय-समय पर अपने हाथ को साफ कर सकें।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस