नोएडा, जेएनएन। दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों के खिलाफ यूपी पुलिस ने अभियान चलाया हुआ है। इस कड़ी में पुलिस ने 60 विदेशी युवक-युवतियों को हिरासत में लिया है। इन पर आरोप है कि ये वीजा खत्म होने के बाद भी इस शहर में रह रहे हैं। मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि पुलिस को शिकायतें मिल रही थीं कि कुछ लोग अवैध शराब और नशीले पदार्थों की तस्करी में लगे हुए हैं। इनकी पहचान करने के लिए अभियान चलाया गया।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने कहा कि विदेशी नागरिकों और आपराधिक गतिविधियों में शामिल विदेशियों पर नजर रखने के लिए ऑपरेशन क्लीन-10 चलाया जा रहा है। इसके तहत आपराधिक गतिविधियों में शामिल विदेशियों पर कार्रवाई की जा रही है।

320 विदेशी नागरिकों की जांच
ऑपरेशन क्लीन-10 के तहत ग्रेटर नोएडा की चार सोसायटी में रहने वाले कुल 320 विदेशी नागरिकों की जांच हुई। जांच के दौरान 60 विदेशी नागरिक वैध दस्तावेज नहीं दिखा सके। इसमें से 8 लोगों के जाली वीजा पासपोर्ट मिला है। विदेशी नागरिकों के कब्जे से साढ़े 3 किलो गांजा और 122 बोतल विदेशी ब्रांड की बियर भी बरामद हुई है।

सभी को पुलिस लाइन ले जाया गया है। कागजी कार्रवाई के बाद सभी विदेशी नागरिकों को उनके देश भेजा जाएगा। पूछताछ के दौरान विदेशी नागरिकों के ग्रेटर नोएडा में कई साल से रहने की बात सामने आई है। पकड़े गए विदेशी नागरिकों में युवतियां भी शामिल हैं।

बता दें कि ग्रेटर नोएडा और नोएडा पुलिस ने दोनों शहरों में ऑपरेशन क्लीन चलाया हुआ है। इस अभियान में स्थानीय पुलिस के साथ लोकल इंटैलिजेंस यूनिट (local intelligence unit) के अधिकारी भी अभियान में शामिल हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, बुधवार को ग्रेटर नोएडा के सेक्टर पाई इलाके में पुलिस ने छापेमारी की। इस दौरान बिना वीजा रह रहे 7 विदेशी युवकों और 4 युवतियों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए सभी लोग नाइजीरिया के रहने वाले हैं।  यह अभियान सुबह 6 बजे से चल रहा है। इन नागरिकों का वीजा और पासपोर्ट चेक किया जा रहा है। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप