मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देने के लिए रविवार को कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। शीला को श्रद्धांजलि देने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और एके एंटनी समेत कई बड़े नेता पहुंचे। सभी नेताओं ने शीला दीक्षित के तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की।

श्रद्धांजलि सभा में आम आदमी पार्टी की बागी विधायक अलका लांबा भी दिखाई दीं। इसके अलावा शीला के विरोधी माने जाने वाले अजय माकन ने भी वहां पहुंचे और श्रद्धांजलि दी।

कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में आयोजित श्रद्धांजलि सभी में पार्टी के कई बड़े नेता पहुंचे। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी शीला दीक्षित की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें याद किया। 

शीला दीक्षित के श्रद्धांजलि सभा में पूर्व सांसद और शीला के बेटे संदीप दीक्षित भी मौजूद रहे।

बता दें कि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीली दीक्षित का 20 जुलाई को 81 वर्ष की आयु में निधन हो गया था। वे लंबे समय से बीमार थीं और उनका एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। कांग्रेस की दिग्गज नेता रही शीला दीक्षित साल 1998 से 2013 तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं।

शीला दीक्षि‍त का अंतिम संस्‍कार अगले दिन 21 जुलाई को दिल्‍ली के निगम बोध घाट पर हुआ था। 25 जुलाई को शीला दीक्षित की अस्थियां वैदिक मंत्रोचारण के साथ पूरे रीति-रिवाज और धार्मिक कर्मकांड के बाद गंगा में विसर्जित की गईं। उनके बेटे संदीप दीक्षित ने उनकी अस्थियों को ब्रह्मकुंड स्थित हरकी पैड़ी पर गंगा में प्रवाहित किया था। इस दौरान हरिद्वार के स्थानीय कांग्रेस नेता भी मौजूद रहे।

वहीं, दिल्ली भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मांगे राम गर्ग की को श्रद्धांजलि देने के लिए रविवार को आइजीआइ स्टेडियम में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में भाजपा के नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

बता दें कि मांगे राम गर्म का निधन 21 जुलाई को दिल्ली में हो गया था। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। 

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप