नई दिल्ली [संजीव कुमार मिश्र]। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय ने शुक्रवार को एक सर्कुलर जारी कर बहुत जल्द सेंट्रल लाइब्रेरी खोलने की बात कही। जेएनयू सेंट्रल लाइब्रेरी द्वारा जारी सर्कुलर में कहा गया है कि छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए जल्द ही डा भीम राव अम्बेडकर लाइब्रेरी खोलने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। दिल्ली सरकार के अनलाक संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए लाइब्रेरी खोलने की प्रक्रिया अमल में लायी जाएगी।

रीडिंग रूम को जल्द खाली करने का निर्देश

जेएनयू प्रशासन ने कहा कि पूरे लाकडाउन के दौरान शोधार्थी रिमोट एक्सेस के जरिए लाइब्रेरी की सुविधाओं का लाभ उठाए। अब बहुत जल्द किताब जारी करने व वापस लौटाने की सुविधा भी शुरू कर दी जाएगी। कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए छात्रों को रीडिंम रूम में बैठकर पढ़ने की इजाजत दी जाएगी। हालांकि पहले रीडिंग रुम को सैनिटाइज करने की जरूरत है। सर्कुलर में कहा गया है कि जिन छात्रों ने गलत तरीके से रीडिंग रूम में कब्जा जमा लिया है, उनको सलाह व निर्देश दिए जाते हैं कि तत्काल रीडिंग रूम खाली कर दें। इससे लाइब्रेरी जल्द खोलने में मदद मिलेगी।

छात्रों पर सुरक्षाकर्मियों से मारपीट का आरोप

जेएनयू प्रशासन ने बताया कि मंगलवार रात करीब 35-40 छात्र लाइब्रेरी के बाहर जमा हो गए थे। छात्र जबरन लाइब्रेरी खोलने की जिद करने लगे। सुरक्षाकर्मियों ने घेरा बनाकर छात्रों को लाइब्रेरी तक पहुंचने से रोकने की भरसक कोशिश की। सुरक्षाकर्मियों ने अंदर घुसे छात्रों रूपेश, पवन, हर्षिता, सन्नी दयाल और धापू सोनी को पकड़ लिया। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। वसंत कुंज पुलिस मामले की जांच कर रही है। हालांकि आठ जून के बाद से ही छात्र लाइब्रेरी में जमे हुए हैं। जेएनयू के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हर समय इक्का दुक्का छात्र रीडिंग रूम में मौजूद रहते हैं।

  • गत वर्ष जनवरी में सेंट्रल लाइब्रेरी में सुरक्षाकर्मियों व छात्रों के बीच मारपीट हुई थी।
  • इस साल मार्च महीने में भी सेंट्रल लाइब्रेरी में जबरन घुसे थे छात्र।
  • छात्रों का कहना था-शोध कार्य पूरा करने के लिए लाइब्रेरी का प्रयोग आवश्यक।
  • जेएनयू ने लाइब्रेरी के सीमित उपयोग की इजाजत दी थी।
  • कोरोना कीदूसरी लहर शुरू होने पर लाइब्रेरी बंद कर दी गई थी।
  • परिसर में फिलहाल 14 जून तक कर्फ्यू लगा हुआ है।

     

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप